आदमखोर पैंथर ने रात को फिर दी दस्तक

अंधेरा होने से ट्रेंकुलाइज नहीं किया जा सका
पहाड़ों में हुआ गायब

By: surendra rao

Published: 27 Jun 2021, 05:27 PM IST


जावर मांइस. (उदयपुर). ग्राम पंचायत सिंघटवाड़ा पन्ना फ ला में गुरुवार रात वृद्धा का शिकार करने करने के बाद आदमखोर पैंथर ने शुक्रवार रात्रि को फि र से दस्तक दी। वनपाल भगवती लाल ने बताया कि पन्ना फ ला निवासी अमरी बाई पत्नी मंगलराम मीणा (७०) गुरुवार रात अपने घर के आंगन में सो रही थी तो पैंथर उसे उठा ले गया। सुबह महिला की लाश झाडिय़ों में मिली थी। ग्रामीणों व जनप्रतिनिधियों की मांग के अनुसार वन विभाग सजग हुआ व पैंथर को पकडऩे के लिए उदयपुर से ट्रेंकुलाइज करने वाली टीम को बुलाया गया। टीम मौके पर ही रात्रि को डटी रही। रात करीब नौ बजे पैंथर पहाडी चट्टान पर आया और दस मिनट तक गुर्राता रहा। लेकिन टीम को ट्रेंकुलाइज करने का मौका नहीं मिला और पैंथर वहां से भाग निकला। सराड़ा वन रेंजर सुरेन्द्र ङ्क्षसह शेखावत ने बताया कि पैंथर को पकडऩे के लिए पांच पिंजरे लगाए हेै तथा पांच ओर पिंजरे लगाने की तैयारी की जा रही हेै। वही मृतका का पोस्टमार्टम के बाद अंतिम संस्कार कर दिया गया।

पन्द्रह दिन में पैंथर द्वारा दूसरी बार महिला का शिकार करने से ग्रामीणों में भय का माहौल है। सिंघटवाड़ा सरपंच गौतमलाल मीणा का कहना था कि आबादी के पास पहाडी वन क्षेत्र में आए दिन पैंथरों को भ्रमण करते देखा जाना आम बात है। ऐसे में वन विभाग की टीम का कहना कि पकड़ा गया पैंथर आदमखोर हेै कैसे पता चलेगा। इसके पूर्व भी वन विभाग ने केवड़ा व सिंघटवाड़ा से तीन पैंथरों को पकड़ा था तथा बताया कि आदमखोर पैंथर पकड़ लिया परन्तु पन्द्रह दिन बाद ही फि र हमले शुरू हो गए।
..........................

surendra rao Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned