कांग्रेस का मोदी सरकार से सवाल : कच्चे तेल के भाव कम हुए, फिर दाम क्यों बढ़ा रहे हो

पेट्रोल-डीजल के दाम बढऩे पर कांग्रेस ने किया प्रदर्शन, राष्ट्रपति के नाम दिया ज्ञापन

By: Mukesh Kumar Hinger

Published: 30 Jun 2020, 10:37 AM IST

उदयपुर. कच्चे तेल के भाव कम हुए है। इसके बावजूद भी देश में पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ाए जा रहे है। आखिर जनता की मुश्किलें तो समझे। जनता परेशान हो रही है। एक तरफ देश कोरोना महामारी के बीच आर्थिक महामारी से लड़ रहा है दूसरी ओर केन्द्र सरकार पेट्रोल-डीजल की कीमतों और उस पर लगने वाले उत्पाद शुल्क को बार-बार बढ़ा रही है।
यह बात सोमवार को पेट्रोल-डीजल के दामों के बढ़ाने के विरोध में प्रदर्शन करने के बाद कांग्रेस नेताओं ने कही। बाद में राष्ट्रपति के नाम एडीएम सिटी संजय कुमार को पिछले तीन महीने के दौरान पेट्रोल-डीजल पर लगने वाले उत्पाद शुल्क और कीमतों में बार-बार की गई बढ़ोतरी अनुचित हैञ पिछले छह सालों में केन्द्र की भाजपा सरकार डीजल के उत्पाद शुल्क में 820 प्रतिशत तथा पेट्रोल के उत्पाद शुल्क में 258 प्रतिशत की वृद्धि की है। केवल पेट्रोल व डीजल पर लगने वाले उत्पाद शुल्क में बार-बार वृद्धि करके मोदी सरकार ने पिछले 18,00,000 करोड़ रुपए जमा किए। शहर कांग्रेस अध्यक्ष गोपाल शर्मा व देहात अध्यक्ष लालसिंह झाला के नेतृत्व में दिए ज्ञापन में राष्ट्रपति से मांग करते हुए कहा कि पेट्रोल-डीजल के दामों एवं उत्पाद शुल्क में की गई सभी बढ़ोतरी को वापस लिए लेने के लिए केन्द्र सरकार को निर्देश दें। इससे पूर्व शहर-देहात की ओर से जिला कलेक्ट्री के बाहर केन्द्र की मोदी सरकार के खिलाफ जोरदार नारे लगाते हुए प्रदर्शन किया गया। वहां पर पूर्व केन्द्रीय मंत्री डॉ. गिरिजा व्यास, सीडब्ल्यूसी सदस्य रघुवीर सिंह मीणा, खेरवाड़ा विधायक दयाराम परमार, पूर्व विधायक त्रिलोक पूर्बिया, मांगीलाल गरासिया, पीसीसी सचिव पंकज कुमार शर्मा, सुरेश श्रीमाली, ब्लॉक अध्यक्ष फतहसिंह राठौड़, महिला नेता नजमा मेवाफरोश, प्रवक्ता फिरोज अहमद शेख, टीटू सुथार आदि उपस्थित थे।

सोशल डिस्टेंस भूले
प्रदर्शन के दौरान कांग्रेसजन सोशल डिस्टेंस ही भूल गए। मास्क जरूर पहने थे लेकिन दूरी किसी ने नहीं बनाई। शहर में सोशल डिस्टेंस की पालना कराने की जिम्मेदारी वाले एडीएम सिटी संजय कुमार को जब ज्ञापन दे रहे थे तब भी एक साथ भीड़ उनके कक्ष में थी।

केन्द्र तत्काल राहत दें

देश का आम नागरिक मुसीबत में है। दुर्भाग्य के साथ कहना पड़ रहा है कि कच्चे तेल के भाव घट रहे है और यहां सरकार पेट्रोल-डीजल के भाव बढ़ाती जा रही है। केन्द्र इसमें लापरवाही कर रहा है। हमने जनता के दर्द को उठाया है। पूरा देश कोराना के संकट में है, इस मुश्किल समय में केन्द्र सरकार तत्काल दाम कम कर जनता को राहत दें।

- रघुवीर सिंह मीणा, सदस्य सीडब्ल्यूसी व पूर्व सांसद

Show More
Mukesh Kumar Hinger Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned