किसानों को बरगला कर कांग्रेस सेक रही राजनीतिक रोटियां: हुसैन

- संसद में कांग्रेस लड़ नही सकती तो किसानो के कंधे पर बैठकर औछी राजनीति का नेतृत्व कर रही

- देश में मुस्लिम सुरक्षित

By: bhuvanesh pandya

Updated: 17 Feb 2021, 07:14 AM IST

भुवनेश पंड्या
उदयपुर. बिहार के उद्योग मंत्री व भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता शाहनवाज हुसैन ने शायराना अंदाज में किसानों के मुद्दे पर कहा कि किसानों से बेर नहीं, जो भारत को बदनाम करे उन ताकतों की खैर नहीं। उदयपुर में मंगलवार को एक निजी कार्यक्रम में आए हुसैन रोटरी भवन में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी और विपक्ष का काम अब देश में हर विषय पर केवल सवाल खडा करना ही रह गया है। कांग्रेस न सत्ता में अपनी अहम भूमिका अदा कर सकी और न ही विपक्ष में। हर विषय पर विवाद उत्पन्न करना सुर्खियों में रहना यह अपना धर्म समझती है। चाहे चीन का विषय हो, पुलवामा या एयर स्ट्राईक। किसान आंदोलन को लेकर उन्होने कहा कि संसद में कांग्रेस लड़ नही सकती तो किसानो के कंधे पर बैठकर औछी राजनीति का नेतृत्व कर रही है। पंजाब में कांगं्रेस के पास सत्ता में है और हरियाणा में विपक्ष में है। दोनो ही प्रदेशों के किसानो को एकत्रित कर व उन्हे बरगला कर सत्ता की तडपन को प्रकट कर रही है और राजनीति की रोटिया सेंक रही है।

-----

बिहार में काम कर दिखाएंगे: उन्होंने कहा कि बिहार में मुख्यमंत्री नितीशकुमार के नेतृत्व में उद्योग लगाएंगे। काम कठिन है, लेकिन पूरा करेंगे। पार्टी कठिन काम देती है और इस उम्मीद से देती है कि हम इसे पूरा करे। 1999 में किशनगंज जहां 70 फीसदी मुस्लिम आबादी है, वहां से लोकसभा का उम्मीदवार बनाया था, जहां से कभी भाजपा नहीं जीती, वहां भी कमल खिलाया। फिर भागलपुर का काम दिया था, वहां हिन्दु मुस्लिम दंगा हुआ था। वहां भी मोहब्बत के फूल खिलाएं। संगठन में सात वर्ष से काम कर रहे थे। कश्मीर घाटी में भी कलम खिलाया। हुसैन ने कहा कि प्रधानमंत्री के नेतृत्व में देश आगे बढ़ रहा है, लेकिन विपक्ष केवल वाक युद्ध में लगा है। उदयपुर में वर्ष में कई बार आना होता है। प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में हमने कोरोना को मात दी है। बड़े-बड़े विकसित देश भी इसका मुकाबला नहीं कर सके।

--------

भारत में कुशल नेतृत्व-दुनिया की हालत खराब: दुनिया की आर्थिक स्थिति बहुत खराब हो गई है, लेकिन भारत में कुशल नेतृत्व की वजह से देश और दुनिया के सामने देश मजबूती से खडा है।

---

किस बात का आन्दोलन कर रहे किसान: प्रधानमंत्री मोदी किसानो के हित में लगातार काम कर रहे है। उन्होने कहा कि न एमएसएमई खत्म की और न ही आडत खत्म की और न ही मंडी बंद की, किस बात का आंदोलन कर रहे है किसान। कांग्रेस के बेहकावे में आकर गलत फ हमिया पैदा कर इस आंदोलन को गलत राह पर ले जाने वाले नेता देश का भला करने वाले नही है, गणतंत्र दिवस पर किसान आंदोलन की आड़ में लाल किले पर जो हमला किया गया वह इस देश की माटी से प्रेम करने वाला तो नही कर सकता है। देश में बहुत सी ताकते है जो देश में जहर फैलाने का कार्य कर रही है। उस तरह की सभी ताकते इकटठ होकर राष्ट्र विरोधी गतिविधिया कर देश को तोडने की साजिश चल रही है जो किसी भी हालत में सफ ल नही होगी।गहलोत सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि ज्यो ज्यो इनका कार्यकाल आगे बढ रहा है जनता त्यो त्यो राहत की सांस ले रही है कि अब कुछ ही समय बचा है इस कुशासन को खत्म होने में। जितने होर्डिंग गहलोत लगा रहे है यदि उस खर्चे को जनता के हित में लगा दिया जाये तो असल में जनता लाभांवित होगी। उन्होने कहा कि कांग्रेस और बीजेपी बुनियादी फ र्क यह है कि कांग्रेस काम गिनाती है और भाजपा काम करती है। यहा के उद्योगपतियों से बिहार में उद्योग लगाने का आह्वान किया।

-----

बिहार में 15 वर्ष से सरकार हमारी है, केन्द्र नेतृत्व चाहता है कि वहां उद्योग लगे। इसलिए उन्हें बिहार भेजा गया है, चुटकी लेते हुए कहा कि मैं अपने गांव गया हूं। अब वहां काम करुंगा।

----

मुस्लिम समुदाय सुरक्षित बातचीत में उन्होने कहा कि मुसलमानो के लिए भारत सबसे सुरक्षित देश है। उन्होंने कहा कि सारे जहा से अच्छा हिन्दुस्तान हमारा। इस अवसर पर भाजपा जिलाध्यक्ष रविन्द्र श्रीमाली, प्रदेश कार्यसमिति सदस्य प्रमोद सामर, देहात जिलाध्यक्ष भंवर सिंह पंवार, जिला प्रमुख ममता कंवर, महामंत्री गजपाल सिंह राठौड, उपमहापौर पारस सिंघवी, महिला मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष अलका मुंदडा, मीडिया प्रभारी चंचल अग्रवाल ने हुसैन का स्वागत किया।
गणतंत्र दिवस पर किसान आंदोलन को लेकर किए गए रेहाना, मीया ख़लीफ़ा या ग्रेटा के ट्विट स्पॉन्सर थे। मोदी को बदनाम करने के लिए दुनियाभर में कई साज़िश चल रही है। किसान कांग्रेस के बहकावे में आकर ये सब कर रहे हैं। किसानो ने शांतिपूर्ण आंदोलन की बात की थी लेकिन एसा नहीं हुआ। मीडियाकर्मियों पर ट्रेक्टर चढ़ाने का प्रयास किया। अपने देश के जवान लाल क़िले से कूदकर जान बचा रहे है। ये कैसा आंदोलन है। अभी भी किसानो से कोई बैर नहीं। बिहार में कई राजस्थानी रहते है, जो वहाँ उध्योग़ शुरू करना चाहे आगे आ सकते है। उन्होंने एक सवाल पर कहां कि पार्टी कहे तो लाहोर में भी कमल खिला देंगे। गुलाब नबी आज़ाद के बीजेपी में आने के सवाल पर कहा कि हमारे द्वार खुले हैं।
पेट्रोल डीज़ल की बढ़ती क़ीमतों पर कहा कि क़ीमत बढ़ी है तो कम भी होगी।

bhuvanesh pandya
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned