खुशखबरी, इस बार गेहूं की बम्पर पैदावार की संभावना, धरतीपुत्रों के खिले चेहरे

Rabi Crops रबी की बुवाई से अन्नदाता के चेहरे खिले, वर्षों बाद संभाग में गेहूं की रिकार्ड बुवाई

मानवेंद्र सिंह राठौड़/उदयपुर. मेवाड़-वागड़ में भरपूर वर्षा होने से भले ही खरीफ का उत्पादन नहीं हुआ हो लेकिन रबी की बुवाई से अन्नदाता के चेहरे खिले हुए हैैं। कई वर्षों बाद संभाग में गेहूं की रिकार्ड बुवाई हुई है। इस बार लक्ष्य के मुकाबले 20-25 फीसदी गेहूं की बुवाई का रकबा बढेग़ा। गेहूं की बुवाई 15 दिसम्बर तक होने की संभावना है। संभाग के उदयपुर, बांसवाड़ा, डूूंगरपुर व प्रतापगढ़ में 2 लाख 82 हजार हेक्टेयर में गेहूं बुवाई का लक्ष्य करीब करीब पूरा हो गया है। कृषि विभाग का मानना है कि कमांड और नोन कमांड एरिया में इस बार सवा तीन लाख से अधिक हेक्टेयर में अकेले गेहूं की बम्पर बुवाई होने की उम्मीद है। खरीफ फसल लेने के बाद जैसे-जैसे खेत खाली होते जा रहे हैं वैसे-वैसे धरती पुत्र गेहूं की पाछेती किस्म की बुवाई में जुटे हुए हैंं। उदयपुर में 80 फीसदी बुवाई पूर्ण हो चुकी है। विभाग ने गत वर्ष 4 लाख 23 हजार 194 हेक्टेयर में रबी की बुवाई का लक्ष्य रखा था, जबकि इस वर्ष 4 लाख 49 हजार हेक्टेयर में बुवाई का लक्ष्य तय किया गया है। इस लक्ष्य से अधिक हेक्टेयर में बुवाई होने की संभावना है। सलूम्बर, भीण्डर, मावली व वल्लभनगर में खेत देर से खाली होने से किसान गेहूं राज-3765 किस्म की बुवाई कर रहे हैं। इसी तरह जौ का 13 हजार हेक्टेयर में बुवाई का लक्ष्य तय किया गया है। इसमें अकेले उदयपुर में 10 हजार की जगह 12 हजार हेक्टेयर में बुवाई हुई है। इसके अलावा बांसवाड़ा, डूूंगरपुर व प्रतापगढ़ में 1-1 हजार हेक्टेयर के मुकाबले 5 हजार से अधिक हेक्टेयर में बुवाई होनी है।

कृषि विभाग के उप निदेशक केएन सिंह ने किसानों को सलाह दी है कि वे 15 दिसम्बर तक ही गेहूं की पाछेती किस्म राज 3765 की बुवाई करें ताकि अच्छा उत्पादन हो सके। उसमें भी बीज दर सामान्य से 25 फीसदी बढ़ाकर बुवाई करनी चाहिए। उन्होंने बताया कि कई वर्षों बाद बरसात अच्छी होने से किसान इस बार बम्पर गेहूं की बुवाई कर रहे हैं। रिकार्ड बुवाई से गेहूं का रिकार्ड उत्पादन होने की उम्मीद है।
उदयपुर में गेहूं का 75 हजार, बांसवाड़ा में 95 हजार हेक्टेयर, डूूंगरपुर में 47 हजार एवं प्रतापगढ़ में 65 हजार हेक्टेयर में बुवाई का लक्ष्य रखा गया था, जो करीब-करीब पूरा हो चुका है। पानी की प्रचूरता से किसान अब भी बुवाई कर रहे हैं।

4 लाख 49 हजार हेक्टेयर में बुवाई का लक्ष्य
फील्ड से जो रिपोर्ट आ रही है इससे संभाग में गेहूं का रकबा 20-25 फीसदी बढऩे की संभावना है। गत वर्ष 4 लाख 23 हजार 194 हेक्टेयर में रबी फसलो की बुवाई का लक्ष्य रख गया था, जबकि इस वर्ष 4 लाख 49 हजार हेक्टेयर में बुवाई का लक्ष्य तय किया गया है।

महेश वर्मा, संयुक्त निदेशक, कृषि

Show More
madhulika singh
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned