पार्सलों को देखते ही इस विभाग के कार्मिकों को लगने लगा डर

पार्सलों को देखते ही इस विभाग के कार्मिकों को लगने लगा डर

मोहम्मद इलियास/उदयपुर
चीन समेत कई देशों में कोरोना वायरल फैलने के बाद अब वहां से आने वाले पार्सलों को लेकर भी डाक विभाग में खौफ पैदा गया है। हालांकि विभाग की ओर से सतर्कता संबंधी आदेश जारी नहीं हुए, लेकिन अभी विभाग में इन पार्सलों को संदिग्ध की नजर से देखते हुए छंटनी की जा रही है। हालांकि चिकित्सकों ने पार्सल को छूने से ही संक्रमण फैलने से इनकार किया है।पूरे राज्य में डाक विभाग में प्रतिदिन साधारण डाक से 300-400 नमूना पार्सल आ रहे हैं। अधिकांश पार्सल में इलेक्ट्रॉनिक सामान व कपड़ों के नमूने होते हैं। इसमें भी सर्वाधिक मोबाइल एसेसरीज के नमूने शामिल हैं। सर्वाधिक पार्सल जयपुर, जोधपुर, कोटा, उदयपुर व अलवर जिलों के हैं। अकेले उदयपुर में ही प्रतिदिन ऐसे 20 से 25 पार्सल आते हैं। कई देशों में कोरोना वायरस फैलने के बाद नमूना पार्सल को लेकर डाक विभाग के कार्मिक खौफ में है। लिहाजा पार्सलों की छंटनी भी संदिग्ध वस्तु की तरह कर रहे हैं।चिकित्सकों का कहना है कि अगर किसी चीज या जगह को छूते हैं, जहां संक्रमित व्यक्ति के छींकने-खांसने से वायरस पहुंचा हो तो वायरस से संक्रमित हो सकते हैं। अब तक कोरोना वायरस के मामले में यह बात सामने नहीं आई है।
----
इतने पार्सल प्रतिदिन
- राज्य में प्रतिदिन आने वाले नमूना पार्सल- 300-400
- उदयपुर में प्रतिदिन आने वाले नमूना पार्सल- 20-25
- सर्वाधिक नमूना पार्सल आ रहे- जयपुर में
--
इनका कहना
प्रतिदिन चीन से 20 से 25 पार्सल आ रहे हैं। कोरोना वायरस को ध्यान में रखते हुए पार्सलों लेकर अभी सतर्कता नहीं बरती, लेकिन शीघ्र ही इस संबंध में आदेश जारी किए जाएंगे।
जगदीशसिंह गुर्जर, प्रवर अधीक्षक, उदयपुर डाक मंडल

Mohammed illiyas Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned