आखिर तीसरे दिन नवजात का हुआ पोस्टमार्टम, परिजनों ने दी सहमति

सतमासी बच्ची की मृत्यु के तीसरे दिन शनिवार को परिजनों ने पोस्टमार्टम के लिए सहमति दी।

उदयपुर . मधुवन स्थित राहत हॉस्पिटल में विवाद के बाद एमबी हॉस्पिटल की बाल चिकित्सा इकाई में हुई सतमासी बच्ची की मृत्यु के तीसरे दिन शनिवार को परिजनों ने पोस्टमार्टम के लिए सहमति दी। इसके बाद चिकित्सालय की ओर से गठित चार सदस्यीय चिकित्सकों की मेडिकल टीम ने पोस्टमार्टम प्रक्रिया पूरी की। नवजात के पिता सहित छात्र नेताओं के अलावा हाथीपोल थाना सीआई अशोक आंजना एवं भूपालपुरा थानाधिकारी चांदमल पोस्टमार्टम की प्रक्रिया के दौरान मौके पर मौजूद थे। इधर, चिकित्सक संगठनों की ओर से तोडफ़ोड के आरोपितों की गिरफ्तारी को लेकर पुलिस पर निरंतर दबाव बनाया जा रहा है। गौरतलब है कि निजी हॉस्पिटल के वेंटीलेटर पर भर्ती सतमासी नवजात को परिजनों ने राजकीय चिकित्सालय की बाल चिकित्सा इकाई में भर्ती कराया था। बच्ची के पैर में कालेपन को देखकर आक्रोशित परिजनों ने निजी चिकित्सालय में तोडफ़ोड़ एवं कथित तौर पर मारपीट की थी। दोनों पक्षों के बीच विवाद के बीच परिजनों की ओर से पोस्टमार्टम को लेकर नाराजगी दिखाई जा रही थी।

बीच-बचाव में विद्यार्थी घायल

उदयपुर . युवाओं के बीच उपजे विवाद को शांत कराने के दौरान बीचबचाव कर रहा 12वीं कक्षा का विद्यार्थी शनिवार को चाकूबाजी में घायल हो गया। उसे घायलावस्था में शहर के निजी चिकित्सालय में भर्ती करवाया गया। पुलिस ने बताया कि राउमावि, कलड़वास का विद्यार्थी रामलाल डांगी अद्र्धवार्षिक परीक्षा देकर घर को लौट रहा था। तभी मार्ग में स्कूल के समीप क्षेत्र के पुष्कर डांगी एवं देवेंद्र नगारची के बीच किसी बात को लेकर विवाद जारी था। मारपीट की स्थिति बनी देख रामलाल डांगी ने बीच-बचाव का प्रयास किया। तभी नगारची की ओर से हवा में घुमाया गए चाकू की चपेट में आने से रामलाल का गाल पर कट लग गया। उसके होठ पर भी चोट आई। परिजनों ने घायलावस्था में चिकित्सालय पहुंचाया।

 

READ MORE: video: परिवार गया था शादी में, पीछे से चोरों ने घर में लगाई सेंध, ले उड़े लाखों के जेवर और नकदी

 

महिला का शव मिला, शिनाख्त नहीं
उदयपुर. हाथीपोल थाना क्षेत्र में शनिवार को महिला का शव मिला। शिनाख्त नहीं हो सकी है। पुलिस के अनुसार मृतका की उम्र करीब 48 साल, लंबाई पांच फीट दो इंच, रंग सांवला और शरीर दुबला-पतला है। दाहिने हाथ पर मानबाई नाम गुदवाया हुआ है। शरीर पर मूंगिया रंग का स्वेटर, लाल साड़ी, सफेद फूलदार आसमानी रंग का पेटीकोट है। टॉप्स के अलावा गले में सफेद मोतियों की माला है। शव को एमबी अस्पाल के मुर्दाघर में रखवाया गया है।

Show More
Sushil Kumar Singh
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned