कोरोना पॉजिटिव निकला बंदी, 9 बंदी, 9 प्रहरी और 4 पुलिसकर्मी क्वारंटाइन

अस्पताल में बंदी पर निगरानी के लिए दो चालानी गार्ड तैनात

By: jitendra paliwal

Updated: 17 May 2020, 10:45 AM IST

उदयपुर. केन्द्रीय कारागृह के एक बंदी के कोरोना पॉजिटिव आने के बाद 13 सुरक्षाकर्मी और नौ बंदियों की जांच कर उन्हें क्वारंटाइन करना पड़ा है। दिलचस्प यह कि अस्पताल में भर्ती बंदी की निगरानी के लिए अब हर समय दो चालानी गार्ड तैनात रहेंगे।
पुलिस के अनुसार मामला यह था कि भूपालसागर के एक युवक के खिलाफ गत फरवरी में उसकी ही पत्नी ने अश्लील वीडियो बनाकर वायरल करने का मामला उदयपुर के सूरजपोल थाने में दर्ज करवाया था। महिला का पीहर उदयपुर के खटीकवाड़ा में है। जांच के बाद दो दिन पहले पुलिस उसे गिरफ्तार कर उदयपुर ले आई। अदालत के आदेश पर उसे उदयपुर के केन्द्रीय कारागृह में भेज दिया गया। नियमानुसार उसकी कोरोना जांच के लिए नमूना संग्रहित करवाकर जेल में ही नए बंदियों के लिए अलग से बनाई गई बैरक में बंद कर दिया गया। शुक्रवार को जब उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई तो जेल व पुलिस प्रशासन में हड़कम्प मच गया। जेल प्रशासन ने उसके सम्पर्क में आए करीब नौ बंदियों को तत्काल जांच के लिए एम्बुलेंस से एमबी हॉस्पिटल भिजवाकर नमूने संग्रहित करवाए।
- पुलिसकर्मियों की भी जांच, नतीजे आना बाकी
सकते में आए पुलिस प्रशासन ने सूरजपोल थाने के उन चार पुलिसकर्मियों की भी जांच करवाई है, जो उसे गिरफ्तार कर लाए थे। इसके अलावा उसे अदालत में पेश करने से लेकर जेल में बैरक ले जाने तक की प्रक्रिया और उसकी सुरक्षा में लगे नौ अन्य प्रहरियों व आरएसी के जवानों की भी जांच करवाई है, जिनके नतीजे आना अभी बाकी है। बंदी के सम्पर्क में आए तमाम दूसरे बंदियों और सुरक्षाकर्मियों को क्वारंटाइन कर दिया गया है। इधर, एमबी अस्पताल के कोरोना वार्ड में भर्ती बंदी की निगरानी के लिए हर समय दो पुलिसकर्मी तैनात किए गए हैं। 24 घंटे में कुल छह चालानी गार्ड ड््यूटी देंगे।

jitendra paliwal Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned