पाठ्यक्रम में वीर, वीरांगनाओं के इतिहास से छेड़छाड़ नहीं सहेगा मेवाड़, विरोध जारी

पूतला दहन कर किया विरोध प्रदर्शन

By: madhulika singh

Published: 26 May 2019, 02:47 PM IST

गौतम पटेल/सराड़ा. भाजयुमो ने शनिवार को राज्य सरकार पर पाठ्यक्रम में बदलाव और इतिहास के साथ छेड़छाड़ का आरोप लगाते हुए झाड़ोल में विरोध प्रदर्शन किया। जयसमंद युवामोर्चा मण्डल के अध्यक्ष अशोक सुथार के नेतृत्व में राज्य के शिक्षा मंत्री का पुतला दहन कर विरोध जताया। कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत व शिक्षा मंत्री गोविन्द सिंह डोटासरा के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की।

इस अवसर पर भाजयूमो मंडल अध्यक्ष अशोक सुथार ने कहा कि इतिहास के साथ किसी भी प्रकार की छेड़छाडी बर्दाश्त नहीं की जाएगी। अगर सरकार पाठ्यक्रम से हटाए गए अंशों को पुनः नहीं जोड़ती है तो सरकार के खिलाफ उग्र आंदोलन किया जाएगा। कार्यकर्ता जनजागरण कर कांग्रेस सरकार की ईंट से ईंट बजा देंगे। गांव-गांव में कांग्रेस सरकार की संस्कृति विरोधी चरित्र को उजागर किया जाएगा। कार्यकर्ताओं ने सरकार के वीर सावरकर को वीर न मानने व उनको अंग्रेजों के सामने झुकने वाले तथ्यों की कड़ी भत्सर्ना की।


अशोक सुथार ने जौहर के चित्र को पाठ्यक्रम से हटाना, जौहर का अपमान बताया। सरकार पर वीर व वीरांगनाओं के त्याग व बलिदान को विस्मृत कर भावी पीढ़ी को कायर बनाने वाली शिक्षा देने का षड्यंत्र करने का भी आरोप लगाते हुए कहा कि इतिहास से छेड़छाड़ करना इस सरकार के बोद्धिक दिवालियेपन को उजागर करता है। इस अवसर पर उपखंड अधिकारी को राज्यपाल के नाम ज्ञापन दिया गया। सराड़ा मंडल अध्यक्ष कांतिलाल टेलर, राहुल चौधरी, निलेश प्रजापत जयेश गर्ग, मनोज विश्वकर्मा, मनोज कलाल, संजय सुथार, करण जोशी मौजूद थे।

BJP
madhulika singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned