मोहम्मद इलियास, प्रमोद सोनी/ उदयपुर हाईकोर्ट बैंच की मांग पर महज सरकार के आश्वासन पर ही पूर्व विधानसभा अध्यक्ष शांतिलाल चपलोत द्वारा अनशन तोड़ने पर दो गुटों में बंट गए। एक गुट प्रतिनिधि मण्डल लेकर मुख्यमंत्री से वार्ता के लिए जाने की तैयारी कर रहा है तो दूसरा गुट इसे जनता का अपमान और मान मर्यादा का प्रश्न बताते हुए विरोध प्रदर्शन कर रहा हैं। विरोधी गुट ने शुक्रवार सुबह धरना स्थल पर लगे बैनर - पोस्टर फाड़ दिए तथा एक पोस्टर पर लगे शांतिलाल चपलोत के फोटो पर कालिख पोत दी।

 

 

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned