बेटे-बेटी, डेडी-मम्मा सब साथ ले रहे दीक्षा, इतिहास बनेगा उदयपुर में

बेटे-बेटी, डेडी-मम्मा सब साथ ले रहे दीक्षा, इतिहास बनेगा उदयपुर में

Mukesh Hingar | Publish: Feb, 08 2019 12:27:44 AM (IST) | Updated: Feb, 08 2019 12:27:45 AM (IST) Udaipur, Udaipur, Rajasthan, India

लेकसिटी में माता-पिता, बेटा-बेटी सहित 6 की दीक्षा

मुकेश हिंगड़ /उदयपुर. झीलों की नगरी उदयपुर में शुक्रवार को एक साथ 6 मुमुक्षुओं की दीक्षा होने जा रही है। दीक्षा से पूर्व गुरुवार को उदयपुर में इन सभी का जगह-जगह अभिनंदन किया गया और वरघोड़ा निकला। सुबह एक साथ एक ही परिवार के चार सदस्य माता-पिता, बेटा-बेटी सहित 6 जनों की दीक्षा आचार्य रामलाल महाराज के सान्निध्य में होगी। साधुमार्गी जैन संघ की ओर से दीक्षा कार्यक्रम का आयोजन शहर के सुंदरवास स्थित नानेश ध्यान केन्द्र में होगा। साधुमार्गी जैन संघ के अध्यक्ष नरेश सिंघवी ने बताया कि दीक्षार्थियों में मुमुक्षु निर्मल मालू, उनकी धर्मपत्नी चन्दनदेवी मालू, उनके बेटे नीरज मालू, बेटी समता मालू्र की दीक्षा होगी। मालू परिवार के ये चारों सदस्य एक साथ दीक्षा ग्रहण कर रहे हैं, मालू परिवार मूलत: नोखा (बीकानेर) के रहने वाले हैं, वर्तमान में सूरत में इनका व्यवसाय है। इनके साथ ही मुमुक्षु महाराष्ट्र के शहादा निवासी प्रो. निकिता कोटडिया एवं चित्तौडग़ढ़ जिले की चिकारड़ा निवासी मुमुक्षु सपना लोढ़ा दीक्षा ग्रहण करेगी। संघ के दिनेश कोठारी ने बताया कि सुन्दरवास स्थित नानेश ध्यान केन्द्र में शुक्रवार प्रात: 8 बजे से देशभर से आने वाले श्रावकों-श्राविकाओं की उपस्थिति में आचार्य रामलालजी महाराज के सानिध्य में 6 जैन दीक्षाएं होंगी। इससे पूर्व प्रात: 7 बजे से महानिष्क्रमण यात्रा होगी, बाद में आचार्य का प्रवचन एवं दीक्षा समारोह होगा।

वरघोड़ा में जय-जयकार की गूंज
इससे पूर्व गुरुवार को सुन्दरवास स्थानक से दीक्षार्थियों को वरघोड़ा निकाला गया जिसमें हजारों श्रावक-श्राविकाओं ने भाग लिया। वरघोड़ा में भाग लेने वालों के बीच उत्साह देखने लायक था। रास्ते में जगह-जगह दीक्षार्थियों का अभिनंदन किया गया तथा महावीर स्वामी की जयकारों के नारे लग रहे थे। बाद में वरघोड़ा नानेश ध्यान केन्द्र पहुंचा जहां पर अभिनंदन किया गया। समारोह में सभी दीक्षार्थी भाई-बहनों ने उनकी अब तक की जीवन यात्रा एवं किस तरह से उनके जीवन में वैराग्य का आगमन हुआ और दीक्षा के भाव बने इस पर सभी ने अलग-अपनी बात रखी। इस दौरान मंत्री नानालाल भन्साली, कोषाध्यक्ष अनिल ढाबरिया, कमल कुमार खुरदिया, साधुमार्गी जैन महिला समिति अध्यक्ष माना पानगडिय़ा, मंत्री नीलम पोरवाल, कोषाध्यक्ष सरोज चपलोत, समता युवा मंच संघ अध्यक्ष सुनील मेहता, कोषाध्यक्ष राकेश बोहरा एवं मंत्री नितिन वया आदि उपस्थित थे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned