माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के चेयरमैन डॉ. जारोली बोले, अब व‍ि‍द्यार्थियों को 3 में 1 एक प्रश्न करना होगा

-10वीं व 12वीं के विद्यार्थियों को राहत देने के लिए बोर्ड ने उठाए विभिन्न कदम, गुरू गोविंद सिंह स्कूल में किया निरीक्षण

 

By: madhulika singh

Published: 28 Jan 2021, 05:08 PM IST

उदयपुर. 10वीं व 12वीं बोर्ड की परीक्षाओं के विद्यार्थियों को राहत देने के लिए बोर्ड ने 40 प्रतिशत सिलेबस तो कम किया ही है, इसके अलावा प्रश्नों की संख्या बढ़ा दी है। इन्हें बहु विकल्पीय बना दिए हैं। यानी पहले जहां 2 में से 1 प्रश्न करना होता था, अब 3 में से 1 प्रश्न करना होगा। वहीं, जिन प्रश्नों में पहले ‘अथवा’ का विकल्प नहीं होता था, उसमें भी अथवा जोड़ दिया गया है। 20 प्रश्न पत्र ऑब्जेक्टिव होंगे, जिन्हें हल करने में अधिक समय नहीं लगेगा। इसके लिए मॉडल पेपर्स जारी कर वेबसाइट पर अपलोड कर दिए गए हैं।

यह बात राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड, अजमेर के चेयरमैन डॉ. धर्मपाल जारोली ने कही। वे मंगलवार को उदयपुर में थे। उन्होंने गुरू गोविंद सिंह उच्च माध्यमिक विद्यालय का निरीक्षण कर कक्षा में विद्यार्थियों को पढ़ाया भी।

अंकतालिका व प्रमाण पत्र के लिए कर सकेंगे ऑनलाइन आवेदन
पत्रिका से बातचीत में डॉ. जारोली ने कहा कि इसी माह से अंकतालिका, प्रमाणपत्र के लिए ऑनलाइन आवेदन की व्यवस्था की है। जो विद्यार्थी पूर्व में जयपुर या अन्य केंद्रों पर जाते थे, वे अब ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। शुल्क जमा होने के 24 घंटे में रजिस्ट्रेशन नंबर मिल जाएगा मूल अंकतालिका व प्रमाण पत्र स्पीड पोस्ट से पहुंचा दिए जाएंगे। पहले ही दिन 1 हजार विद्यार्थियों ने आवेदन किया है। इसके अलावा अंक ओएमआर शीट में भेजे जाते थे, वह प्रक्रिया भी ऑनलाइन कर दी है, इससे परिणाम 15 दिन पहले निकल पाएगा।


उदयपुर में जिस स्कूल से शिक्षा प्राप्त की, वहीं निरीक्षण करने पहुंचे

जारोली ने बताया कि गुरू गोविंद सिंह स्कूल आने का उद्देश्य उनका इससे पुराना जुड़ाव रहा है। वे यहां के विद्यार्थी रह चुके हैं और अब बोर्ड चेयरमैन के रूप में पहली बार स्कूल आए हैं। यहां अपने स्कूल की शिक्षण व्यवस्था, विद्यार्थियों के लिए सुविधाएं व कोरोना प्रोटोकॉल आदि व्यवस्थाएं देखीं। कक्षाओं में जाकर विद्यार्थियों से बात भी की, जिसमें संतुष्टि हुई। उन्हें थोड़ी देर के लिए पढ़ाया भी। गौरतलब है कि जारोली ने 10वीं व 11वीं की पढ़ाई गुरू गोविंद सिंह स्कूल से की थी वहीं आगे की पढ़ाई सुखाडिय़ा यूनिवर्सिटी से की। सुखाडिय़ा विश्वविद्यालय में वे लेक्चरर भी रहे हैं।

madhulika singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned