इन विधायक ने विधानसभा में कहा अब हाइवे पर रास्ता जाम करेंगे

अवैध टोल नाकों को लेकर चेतावनी

By: Mukesh Kumar Hinger

Published: 07 Mar 2020, 11:37 AM IST

मुकेश हिंगड़ / उदयपुर. मावली विधायक धर्मनारायण जोशी कहा कि मावली क्षेत्र में डबोक से बोयणा के बीच में लगे अवैध टोल नाके समय रहते नहीं हटे तो विधानसभा के मौजूदा सत्र के बाद वे हाईवे पर रास्ता जाम करेगें, जिसकी जिम्मेदारी सरकार की होगी। सदन में स्थगन प्रस्ताव पर बोलते हुए जोशी ने कहा कि सात किलोमीटर में 3-3 टोल नाके को लेकर वे इस समस्या पर स्थानीय प्रशासन, जिला कलक्टर से बात करने के बाद विधानसभा में भी शून्यकाल के दौरान सरकार का ध्यानाकर्षण कर चुके है। जोशी ने कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, उप मुख्यमंत्री व सार्वजनिक निर्माण मंत्री सचिन पायलट से मिलकर इस समस्या से अवगत करा चुके है, फिर भी समाधान नहीं हुआ है। बोले उदयपुर जिला कलक्टर से बातचीती की तो उन्होंने कहा था कि तीन दिन में टोल नाके हटा देगी लेकिन अब तक हुआ कुछ नहीं। जोशी के सवाल पर सरकार ने कहा कि उदयपुर जिले में राजस्थान मदरसा बोर्ड में पंजीकृत 46 मदरसे हैं और उनमें 506 छात्र, 456 छात्राएं अध्ययनरत है। सरकार ने बताया कि इन मदरसों में संविदा पर कार्यरत शिक्षा सहयोगियों को पिछले 6 वर्षो में मानदेय पर 2 करोड़ 45 लाख तथा सुविधाओं पर 50.93 लाख रुपए खर्च किए गए है।

गोगुंदा में 114 बेरोजगारों को भत्ता

गोगुंदा विधायक प्रताप भील के सवाल पर सरकार ने सदन मे ंबताया कि विस क्षेत्र गोगुंदा में जनवरी 2019 से जनवरी 2020 तक 734 बेरोजगार युवाओं ने जिला रोजगार कार्यालय उदयपुर में पंजीयन करवाया है। इनमें से पात्र 114 जनों को मुख्यमत्रीं युवा सम्बल योजना के तहत बेरोजगार आशार्थियों को निर्धारित पुरुष वर्ग को 3000 उवं महिला एवं अन्य को 3500 रुपए का बेरोजगारी भत्ता दिया जा रहा है।

बड़ी के 6 गांवों को पेयजल योजना से जोडऩा संभव नहीं
ग्रामीण विधायक फूलसिंह मीणा के बड़ी ग्राम पंचायत के 6 गांवों को बड़ी तालाब से पानी दिलाने के प्रस्ताव पर सरकार की ओर से तथ्यात्मक प्रतिवेदन दिया गया। इसमें सरकार ने कहा कि बड़ी ग्राम पंचायत के 6 गांव लियो का गुड़ा, लई का गुड़ा, बड़ी, हवाला कलां, हवाला खुर्द एवं उपली बड़ी को पेयजल योजना से जोडऩे के लिए 90 प्रतिशत जल उपलब्धता एवं जल आरक्षण की मांग पर जल संसाधन विभाग ने अनुपलब्धता बताई गई। ऐसे में इन गांवों को बड़ी तालाब की पेयजल योजना से जोड़ा जाना संभव नहीं है।

Show More
Mukesh Kumar Hinger Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned