उदयपुर आई साध्वी ऋतम्भरा ने कहा, राम मंदिर ट्रस्ट में जगह नहीं मिलने पर दुख नहीं

साध्वी ऋतम्भरा ने उदयपुर प्रवास के दौरान कहा, धर्म और वोट बैंक की सियासत करने वालों को करना होगा बेनकाब

उदयपुर. साध्वी ऋतम्भरा ने कहा कि राम मंदिर निर्माण के लिए गठित ट्रस्ट में कौन नामित हुए और कौन नहीं, यह कोई मायने नहीं रखता है। हम सब के लिए खुशी तो इस बात की है कि राम मंदिर के निर्माण का मार्ग प्रशस्त हो गया है। देश में धर्म और वोट बैंक की सियासत करने वालों को बेनकाब करने के लिए राष्ट्रभक्तों को आगे आने की जरूरत है।

साध्वी ऋतम्भरा ने ये बात उदयपुर प्रवास के दौरान सोमवार को पत्रकार वार्ता में कही। उन्होंने कहा कि राम मंदिर ट्रस्ट में जगह नहीं मिलने पर उन्हें दुख नहीं है, ट्रस्ट बन गया यह उनके लिए खुशखबरी है। ट्रस्ट के माध्यम से राम का मंदिर जल्द बनेगा।

सीएए व एनआरसी पर चर्चा करते हुए साध्वी ने कहा कि इसका विरोध करने वाले देश के दुशमन हैं, यहां रहने वाले हिन्दुओं व मुसलमानों को भला क्या तकलीफ हो सकती है, जो विरोध कर रहे हैं। भ्रम फैलाने वाले शत्रुओं के मंसूबे कभी पूरे नहीं होंगे। वे गंदी सियासत करने वाले देश के दुशमन हैं, जिनके मंसूबे पूरे नहीं होंगे। राष्ट्र विरोधी नारेबाजी करने वाले मां भारती के सपूत नहीं हो सकते। दकियानूसी विचारधारा वाले लोगों को राजनीति के लिए देश के साथ खिलवाड़ करना बंद करना चाहिए। क्योंकि राष्ट्रहित ही सर्वोपरी है। अब समय आ गया है कि ऐसी घृणित मानकिता वालों को दुत्कारना होगा। देश में हालात खतरनाक करने की कोशिशें हो रही है। अलगाववाद के जहर को खत्म करने और राष्ट्रवाद के लिए संगठित होकर मुकाबला करना होगा। उन्होंने कहा कि केन्द्र की मोदी सरकार देशहित में फैसले कर राष्ट्रधर्म निभा रही है।

शिक्षा राष्ट्र के अनुकूल नहीं
साध्वी ने शिक्षा पर बोलते हुए कहा कि विश्वविद्यालयों में जो पढ़ाया जा रहा है, वह राष्ट्र के अनुकूल नहीं है। शिक्षा ऐसी होनी चाहिए कि हमारी संतानों को धर्म और संस्कृति का ज्ञान हो सके। आज की शिक्षा व्यवस्था सिर्फ पेट भरने व डिग्री तक ही सीमित होकर रह गई है। हमारी संतानों को इतिहास, संस्कृति, वेद, पुराण पढ़ाया ही नहीं गया है।

Ram Mandir
madhulika singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned