अब सैटेलाइट के जरिये पढ़ेंगे नवीं-दसवीं के बच्चे...जिन स्कूलों में शिक्षक नहीं, उन्हें मिलेगा लाभ..


www.patrika.com/rajasthan-news

By: madhulika singh

Published: 20 Jul 2018, 06:00 AM IST

भुवनेश पंड्या /उदयपुर. नवीं और दसवीं कक्षा के बच्चे अब सैटेलाइट प्रसारण के जरिये अनुभवी शिक्षकों से विज्ञान, गणित, अंग्रेजी व कम्प्यूटर विषयों का अध्यापन करेंगे। आईसीटी के तीसरे और चौथे फेज में यह शिक्षण तय किया गया है। हालांकि बच्चे इन विषयों को अब तक रिकॉर्डेड लेसन के जरिये पढ़ रहे थे, लेकिन अब बच्चे कम्प्यूटर की बड़ी स्क्रीन पर ऐसे पढ़ सकेंगे, जैसे कोई शिक्षक सीधे उनके सामने खड़े होकर पढ़ा रहा हो।

टाइम टेबल जारी किया

राजस्थान स्कूल शिक्षा परिषद ने इसका समय विभाग चक्र जारी कर दिया है। समय, कालांश, विषय और पाठ की जानकारी स्कूलों को दे दी गई है, ताकि चयनित स्कूलों में से कोई भी बच्चा वंचित नहीं रहे। इनमें पहला कालांश 8.35 से 9.15 बजे के बीच होगा जिसमें नवीं कक्षा के बच्चों को गणित पढ़ाई जाएगी। दूसरा कालांश सुबह 9.15 से 9.55 बजे तक में नवीं को विज्ञान व दसवीं को गणित पढ़ाई जाएगी। तीसरा कालांश 9.55 से 10.35 रहेगा, जिसमें नवीं कक्षा को अंग्रेजी और दसवीं को एसएसटी, चौथा कालांश 10.35 से 11.15 तक में नवीं को हिन्दी व दसवीं को अंग्रेजी पढ़ाई जाएगी। इसी प्रकार पांचवां, छठा, सातवां और आठवा कालांश बांटा गया है।

जयपुर से होता है प्रसारण

उदयपुर जिले के 106 थर्ड फेज और फोर्थ फेज के 18 स्कूलों में सैटेलाइट सेट लगा हुआ है। सैटेलाइट कक्षाएं जयपुर से चलाई जाती हैं, वहां से समय विभाग चक्र भेजा जाता है। सिस्टम पर कार्मिक लगा रखे हैं। उस टाइम टेबल के अनुसार इन बच्चों को वहां बिठाया जाता है।
नरेश डांगी, जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक प्रथम

 

READ MORE : video : शिक्षा के मंदिर में असामाज‍िक तत्‍वों ने की शराब पार्टी और बोतलें फोड़ कर जमक मचाया हुड़़दंग...

 

होनहार स्टूडेंट्स को मिलेगी स्कॉलरशिप

उदयपुर. पिश्ता कुमारी गेंद सिंह खमेसरा स्मृति छात्रवृत्ति योजना के तहत इस शैक्षणिक सत्र में 70 जरुरतमंद प्रतिभावान छात्र-छात्राओं को पांच-पांच हजार रुपए की छात्रवृत्ति प्रदान की जाएगी।
प्रबंधक सह संचालक नरेन्द्र सिंह खमेसरा ने बताया कि सभी प्राप्त पूर्ण आवेदनों पर सत्र 2013-14, 14-15, 15-16, 16-17 एवं 17-18 में क्रमश: 17, 43, 53, 50 और 50 छात्र-छात्राओं को पांच-पांच हजार रुपए की छात्रवृत्ति दी गई। इसी तरह अब वर्ष 2018-19 के लिए भी जरूरतमंद बच्चों से आवेदन मांगे गए हैं। ऐसे बच्चे जो 10वीं,11वीं व 12वीं उदयपुर व राजसमंद जिले की किसी भी सरकारी स्कूल से 60 प्रतिशत से अधिक अंकों के साथ उत्तीर्ण हो, अभिभावक की सालाना आय एक लाख रुपए से कम हो तथा किसी के पिता के देहावसान हो गया तो वे 12 अक्टूबर तक आवेदन कर सकेंगे। आवेदन फॉर्म मूक बधिर उच्च माध्यमिक स्कूल, राजकीय माध्यमिक विध्यालय सेक्टर चार हिरण मगरी से लेकर वहां जमा करवाए जा सकेंगे।

 

madhulika singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned