आंगनवाड़ी पाठशाला जर्जर, हर पल खतरे का साया

आंगनवाड़ी पाठशाला जर्जर, हर पल खतरे का साया
आंगनवाड़ी पाठशाला जर्जर, हर पल खतरे का साया

Surendra Singh Rao | Updated: 26 Aug 2019, 04:24:17 AM (IST) Udaipur, Udaipur, Rajasthan, India

(children and worker having trouble in sitting)
छोटे बच्चों एवं कार्यकर्ता को बैठने में परेशानी

उदयपुर .झाड़ोल. उपखण्ड मुख्यालय पर संचालित अंागनवाड़ी पाठशाला (प्रथम मेला ग्राउण्ड) की हालत दिन ब दिन खराब हो रही है। इससे छोटे बच्चों (children)को परेशानी (face problem)हो रही है। पाठशाला (school)१२ वर्ष पूर्व बनी। उसमें कमरे (room)भी जर्जर हो चुके हैं एवं बरसात (in heavy rain)में कमरो में पानी टपक रहा
(Water dripping) है, जिससे कभी भी हादसा
(Accident)हो सकता है।
कमरे में बैठाना भी खतरे से खाली नहीं है। अंागनवाड़ी बने करीब १२ वर्ष हो गए है लेकिन दो बार छोटी मोटी रिपेयरिंग कराई गई। उसके बाद आज दिन तक कोई कार्य नहीं कराया गया है। बरसात में पानी टपकने से छोटे बच्चों की छुट्टी करनी पड़ रही है। दो दिन से बरसात के कारण आंगनवाड़ी पाठशाला के दस्तावेज भी भीग गए है।
कई बार शिकायत लेकिन हल नहीं
आंगनवाड़ी पाठशाला प्रथम पर कार्यकर्ता विमला पडिहार की ओर से बाल विकास परियोजना अधिकारी, ग्राम पंचायत झाड़ोल को कई बार समस्या से अवगत कराया गया लेकिन हल नहीं निकला।
मरम्मत के लिए जारी होगा बजट
आंगनवाड़ी जर्जर होने की मुझे जानकारी नहीं है। शीघ्र ही मरम्मत के लिए बजट जारी किया जाएगा।
पन्नालाल मेघवाल
सीडीपीओ, झाड़ोल

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned