राधा और गोपियों का दिव्य प्रेम झलका भरतनाट्यम में, माहौल हुआ कृृृष्णमय

‘शरद रंग’ में शुक्रवार को अहमदाबाद की नृत्यांगना शीतल मकवाना व उनके साथियों ने भरतनाट्यम की दी प्रस्तुति

By: madhulika singh

Updated: 30 Jan 2021, 04:44 PM IST

उदयपुर. पश्चिम क्षेत्र सांस्कृतिक केन्द्र की ओर से आयोजित शास्त्रीय संगीत व नृत्य समारोह ‘शरद रंग’ में शुक्रवार को अहमदाबाद की नृत्यांगना शीतल मकवाना व उनके साथियों ने भरतनाट्यम शैली में अपनी प्रस्तुति से वातावरण को कृष्णमय बना दिया। शीतल और दल ने नृत्य नाट्य ‘प्रेम का प्रतीक: रसराज का प्रदर्शन किया। कार्यक्रम में मकवाना के साथ युति पटेल, उन्नति जिंदल, प्रियंका बोहरा, हिमजा शिहोरा, कैरवी जोशी, कृष्णा शुक्ला, दृष्टि शाह, मोक्षा शाह ने नृत्य प्रस्तुति दी।

bharatnatyam.jpg

प्रस्तुति में श्रीकृष्ण व उनके सुंदर रूप के वर्णन निरूपण किया गया तथा राधा और गोपियों के साथ उनके दिव्य प्रेम को दर्शाया गया जिसमें रूठना, मनाना इत्यादि विभिन्न प्रकार के रसाेेंें का सम्मिलन कराया गया। सखी, गोपी, राधा इन सब के जीवन का आधार योगेश्वर श्रीकृष्ण है। उनकी पत्नियां एवं प्रेमिका में राधा के प्रेम को सर्वोच्च स्थान मिला है। यहां गापियों को और राधा के मनःस्थिति का कई रंग में निरूपण किया गया है। यहां प्रेम की मूर्ति है कन्हैया, प्रेम का पर्याय है कान्हा और प्रेम का प्रतीक है कृष्णा। कृष्णा के साथ जुडी हुई गोकुल की कई सारी मधुर प्रसंग प्रस्तुति में उत्कृष्ट ढंग से दर्शाये गये। प्रस्तुति में संगीत पक्ष जहां प्रबल बन सका वहीं कलाकारों ने अपनी भाव सम्पेषणता से प्रस्तुति को सशक्त बनाया।

madhulika singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned