scriptshortage of urea | खाद की किल्लत, पुलिस मौजूद फिर भी नहीं हुआ वितरण | Patrika News

खाद की किल्लत, पुलिस मौजूद फिर भी नहीं हुआ वितरण

अब राशन कार्ड से होगा वितरण

उदयपुर

Published: December 22, 2021 08:43:31 pm


जयसमंद. (उदयपुर). यूरिया खाद की किल्लत के बीच वीरपुरा सहकारी समिति में खाद पहुंची लेकिन हजारों काश्तकारों के बीच मात्र ६४० बैग होने के चलते पुलिस जाप्ते के बाद भी खाद का वितरण नहीं किया जा सका। अब राशन कार्ड के जरिए वितरण करने का निर्णय लिया गया है।
कस्बे में स्थित वीरपुरा सहकारी समिति पर मंगलवार को अल सुबह सात बजे से ही क्षेत्र के 5 ग्राम पंचायत सहित आसपास के करीब 22 गांवों के काश्तकार यूरिया खाद लेने पहुंचे। लेम्पस खुलने के निर्धारित समय से पहले ही एक हजार से अधिक काश्तकार लेम्पस के बाहर जमा हो गए। भीड़ ज्यादा होने के चलते दो ग्राम पंचायत के सरपंचों और पुलिस की उपस्थिति के बाद भी खाद का वितरण नहीं हो सका। ऐसे में जनप्रतिनिधियों व समिति के सदस्यों की बैठक के बाद राशन कार्ड से खाद का वितरण करना तय हुआ।
यूरिया की कमी, खराब हो रही फसलें
मूंगाणा. यूरिया खाद की कमी के चलते क्षेत्र के किसानों को काफ ी परेशानी झेलनी पड़ रही है। इस समय गेहंू, चने की फ सलों को पहली पाण के दौरान यूरिया खाद की आवश्यकता होती है।
बाजार में विगत एक सप्ताह से व्यापारियों के पास यूरिया खाद नहीं है। महंगे दाम से किसानों ने बीज बोए हैं। समय रहते खाद नहीं मिला तो हजारों बीघा में खड़ी रबी फ सलें खासी प्रभावित होंगी और इसका नुकसान सीधे किसानों को भुगतना पड़ेगा। इस वर्ष सहकारी समिति लेंपस में भी यूरिया खाद उपलब्ध नहीं है।
खाद के अभाव में फ सलों में नुकसान होना तय हैं। बुधवार को मूंगाणा गांव में प्रशासन गांवों के संग शिविर के दौरान भी ज्ञापन
के माध्यम से खाद की मांग
उठाई जाएगी। मूंगाणा लेंपस अध्यक्ष किशोर कुमार जैन ने बताया कि एक दो दिन में
सहकारी समिति में यूरिया खाद उपलब्ध हो जाएगा।
shortage of urea
खाद की किल्लत, पुलिस मौजूद फिर भी नहीं हुआ वितरण

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

लता मंगेशकर की हालत में सुधार, मंत्री स्मृति ईरानी ने की अफवाह न फैलाने की अपीलAssembly Election 2022: चुनाव आयोग का फैसला, रैली-रोड शो पर जारी रहेगी पाबंदीगोवा में बीजेपी को एक और झटका, पूर्व सीएम लक्ष्मीकांत पारसेकर ने भी दिया इस्तीफाUP चुनाव में PM Modi से क्यों नाराज़ हो रहे हैं बिहार मुख्यमंत्री नितीश कुमारPunjab Election 2022: भगवंत मान का सीएम चन्नी को चैलेंज, दम है तो धुरी सीट से लड़ें चुनावKanimozhi ने जारी किया हिन्दी सब-टाइटल वाला वीडियोIndian Railways News: रेल यात्रियों के लिए अच्छी खबर, 22 महीने बाद लोकल स्पेशल ट्रेनों में इस तारीख से MST होगी बहालएक किस्साः जब बाल ठाकरे ने कह दिया था- मैं महाराष्ट्र का राजा बनूंगा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.