video : इसलिए महँगी होती जा रही गैस-तेल के दाम छू रहे आसमान

bhuvanesh pandya | Publish: Mar, 16 2019 02:25:15 PM (IST) | Updated: Mar, 16 2019 03:32:50 PM (IST) Udaipur, Udaipur, Rajasthan, India

- २६ में से ८ बेसिन का ही उपयेाग

भुवनेश पंड्या
उदयपुर . ओएनजीसी विदेश के निदेशक डॉ अनिल भंडारी ने कहा कि राजस्थान के भूगर्भ में अपार तेल के भंडार हैं, लेकिन हमें करीब 80 प्रतिशत आयात करना पड़ रहा है, क्योंकि हमारे पास बेसिन से तेल-गैस निकालने के लिए पर्याप्त संसाधन नहीं है।

भंडारी ने शुक्रवार को पत्रिका से बातचीत में कहा कि 26 बेसिन में से केवल 8 बेसिन ऐसे हैं जहां से हम व्यावसायिक हाइड्रोकार्बन निकाल पाए हैं। हाल में कच्छ बेसिन की खोज की गई है जिससे काफी मात्रा में तेल व गैस निकलेगा। देश 220 मिलियन टन तेल-गैस की हमें जरूरत है, लेकिन हम उत्पादन केवल 25 से 30 मिलयन टन ही उत्पादन कर पा रहे हैं। ऐसे में हमें 80 प्रतिशत तेल-गैस आयात करना पड़ता है।

भंडारी ने दोहन के विकल्प बताते हुए कहा कि एलएनजी, सीबीएम, टाइड गैस, गेल गैस को विकल्प के तौर पर देखा जा रहा है, लेकिन इसे उपयोगी बनाने में खर्च बढेग़ा, इसके लिए पर्यावरणीय स्थिति के अनुरूप तैयार करना होता है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned