उदयपुर में तीन महीने में लगेगी रानी पद्मिनी की प्रतिमा, विभूति पार्क में एक करोड़ में स्थापित होंगी नौ मूर्तियां

उदयपुर में तीन महीने में लगेगी रानी पद्मिनी की प्रतिमा, विभूति पार्क में एक करोड़ में स्थापित होंगी नौ मूर्तियां

Mukesh Hingar | Publish: Dec, 21 2017 02:06:43 AM (IST) Udaipur, Rajasthan, India

- पद्मावती फिल्म विवाद के बीच गृहमंत्री व महापौर ने मूर्तिकार को काम में तेजी लाने के दिए निर्देश

 

उदयपुर . झीलों की नगरी में फतहसागर की पाल के पास स्थित विभूति पार्क में जल्द ही रानी पद्मिनी की प्रतिमा स्थापित होगी। पद्मावती फिल्म विवाद के बीच अगले साल प्रदेश में चुनाव को देखते हुए गृहमंत्री गुलाबचंद कटारिया और उदयपुर के महापौर चंद्रसिंह कोठारी ने हाल में जयपुर में मूर्तिकार से मिलकर उसे तीन महीने में यहां प्रतिमा स्थापित करने को कहा है।

 

READ MORE : video : देश की पहली सोरायसिस इंटरनेशनल कॉन्फ्रेंस होने जा रही है उदयपुर में, दुनिया भर से आएंगे विशेषज्ञ-चिकित्सक


दरअसल, करीब डेढ़ वर्ष पूर्व कटारिया के निर्देश पर नगर निगम ने विभूति पार्क में मेवाड़ के इतिहास से संबंधित 9 विभूतियों की मूर्तियां स्थापित करने का प्रोजेक्ट हाथ में लिया था। गृहमंत्री कटारिया ने 31 जनवरी 2016 को विभूति पार्क में प्रतिमा लगाने के कार्य का भूमि पूजन किया था। इसके बाद कुछ झील प्रेमियों ने यहां पेडेस्टल से फतहसागर की पाल को नुकसान पहुंचने की बात कहते हुए विरोध किया। न्याय मित्र के जरिए कुछ समय बाद मामला हाईकोर्ट चला गया।

 

हाईकोर्ट ने इस मामले में नगर निगम को विषय विशेषज्ञों से पूरी जांच करवा कर तथ्यात्मक रिपोर्ट पेश करने को कहा। झील की पाल की खुदाई के विवाद को लेकर आईआईटी रुडक़ी की टीम ने फरवरी 2017 में मौका देखा और वहां लोगों से बातचीत की। पार्क में मूर्तियां लगाने के लिए बनाए पेडेस्टल से फतहसागर झील की असुरक्षा को लेकर आईआईटी रुडक़ी टीम की रिपोर्ट मार्च 2017 में नगर निगम को मिल गई। रिपोर्ट में फतहसागर झील को कोई खतरा नहीं बताया गया। इसके बाद हाईकोर्ट ने पास ही बनाई दीवार को मजबूत बनाने और अन्य कुछ तकनीकी निर्देश दिए। इसके बाद भी मामला खटाई में पड़ा रहा।

 

अब फिल्म विवाद के बीच अगले साल विधानसभा चुनाव को देखते हुए जनप्र्रतिनिधियों ने इस कार्य को तेजी से पूरा करने के निर्देश दिए हैं। हाल ही में गृहमंत्री कटारिया, राजस्थान धरोहर संरक्षण एवं प्रोन्नति प्राधिकरण के अध्यक्ष औंकार सिंह लखावत व उदयपुर नगर निगम के महापौर चन्द्रसिंह कोठारी जयपुर में मूर्तिकार से मिले और कहा कि मूर्तियां तीन महीने में लग जाए, इस तरह तेजी से काम करो तो मूर्तिकार ने कहा कि उनकी तरफ से तैयारी पूरी है।


ये प्रतिमाएं लगेंगी

1. रानी पद्मिनी

2. राणा सांगा

3. राणा कुंभा

4. बप्पारावल

5. राजसिंह

6. राणा हमीर सिंह

7. केसरी सिंह बारहठ

8. विजय सिंह पथिक

9. गोविंद गुरु

 

यह हमारा डेढ़ साल पुराना प्रोजेक्ट है, एक साल पहले भूमि पूजन किया। मामला हाईकोर्ट में चला गया था। इसके बाद हाईकोर्ट से राहत मिली। इस मामले में गृहमंत्री व मैं स्वयं जयपुर मूर्तिकार के पास गए। उसे काम में तेजी लाने और तीन महीने में प्रतिमाएं तैयार करने को कहा है।

- चन्द्रसिंह कोठारी, महापौर, नगर निगम उदयपुर

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned