वनविभाग की सख्ती: 15 लाख रुपए कीमत की पकड़ी खैर लकड़ी

वनविभाग की सख्ती: 15 लाख रुपए कीमत की पकड़ी खैर लकड़ी

Sushil Kumar Singh Chauhan | Publish: Jun, 19 2019 12:00:00 AM (IST) Udaipur, Udaipur, Rajasthan, India

फर्नीचर बनाने में काम आती है खैर की लकड़ी

उदयपुर/ झाड़ोल. क्षेत्र होकर गुजरते राष्ट्रीय राजमार्ग पर मंगलवार तड़के कार्रवाई करते हुए वनविभाग ने एक ट्रक में लदी करीब 15 लाख लागत की खैर लकड़ी बरामद की। इससे पहले वनविभाग ने सुल्तानजी का खेरवाड़ा में नाकेबंदी कर ट्रक की जांच की। भरी हुई लकड़ी को लेकर चालक आवश्यक दस्तावेज नहीं बता पाया और न ही संतोषप्रद जवाब दे पाया। मामले में विभागीय दल ने अलवर निवासी ट्रक सवार अरसद पुत्र दाउद हुसैन, रफीक पुत्र रसुद्दीन, हरियाणा निवासी जीजान पुत्र महबूब को पकड़ लिया, जबकि दो आरोपी मौके से भागने में सफल हुए। विभागीय दल मामले को लेकर आरोपियों से पूछताछ कर रही है।
इससे पहले जिला वन अधिकारी के निर्देश पर गठित टीम में शामिल वनपाल मांगीलाल, गुणवंतसिंह, सहायक वनपाल हीरालाल सोनी, लक्ष्मीलाल, नरेंद्रसिंह झाला, मुनीम मीणा, वनरक्षक प्रवीणसिंह झाला, जितेंद्रसिंह झाला, लालूराम विजय अहारी एवं अन्य वन कार्मिकों ने नाकेबंदी की कार्रवाई में हिस्सेदारी निभाई। विभाग की मानें तो खैर की लकड़ी फर्नीचर बनाने में काम आती है। गौरतलब है कि पूर्व में विभागीय स्तर पर इस तरह की कार्रवाई की जा चुकी है। बावजूद इसके स्थानीय स्तर पर लकड़ी तस्करों की गतिविधियों पर विराम नहीं लग रहा।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned