एम्बुलेंस के अभाव में छात्रा की मौत

सर्पदंश के बाद समय पर नहीं मिला उपचार

By: surendra rao

Published: 06 Jun 2020, 06:11 PM IST

उदयपुर. भाणदा समीप के खराड़ीवाड़ा गांव में गत दिनों खेत से पशुओं का चारा लेकर घर लौट रही बालिका की रास्ते में सांप के डसने से मौत हो गई। दिनेश कुमार गरासिया की 14 वर्षीय पुत्री जश्विना कुमारी अपने खेत से पशुओं का लेकर घर आ रही थी कि रास्ते में अचानक आए सांप ने बालिका के पैर में डस लिया। अचेत हुई बालिका को तुरंत ही परिजन पहाड़ा चिकित्सालय ले गए। जहां पर चिकिसाधिकारी ने बालिका की हालत गंभीर होने पर जांच कर अन्य अस्पताल के लिए रेफर कर दिया। बालिका को परिवारजन पहाड़ा हॉस्पिटल में एम्बुलेंस नही होने से बाइक पर बैठाकर निजी हॉस्पिटल गुजरात लेकर रवाना हुए। रास्तें में गुजरात के आश्रम गांव के समीप बालिका की मौत हो गई। एेसे में परिवार का रो-रो कर बुरा हाल हो गया। बालिका खराडीवाड़ा के सरकारी विद्यालय में कक्षा आठवीं में अध्ययनरत् थी ।
फिर से उठी एम्बुलेंस की मांग
पहाड़ा प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पर 108 या 104 उपलब्ध नहीं होने पर मरीजों को आए दिन परेशानीं का सामना करना पड़ रहा है। युवा मोर्चा मण्ड़ल अध्यक्ष सतवीरसिंह चौहान ने बताया कि पहाडा पीएससी के अन्तर्गत दर्जनों गांव आते है। एेसे में अचानक होने वाली घटना व बीमारी पर लोगों को समय पर 108 व 104 उपलब्ध नहीं हो पाती है। जिससे परिजनों को निजी वाहन के द्वारा अस्पताल जाना पड़ता है। युवा मोर्चा मण्ड़ल अध्यक्ष चौहान के नेतृत्व में भरत तीरगर,जगदीश दरंगा,विजय कलाल,शान्तिलाल कलाल ने गत दिनों उदयपुर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. दिनेश खराड़ी व उदयपुर सांसद अर्जुनलाल मीणा को ज्ञापन भी दिया।
इनका कहना
पहाड़ा पीएससी पर एम्बुलेंस की बहुत ज्यादा आवश्यकता है। स्थानीय ग्रामीणों द्वारा विभाग के अधिकारियों व जनप्रतिनिधियों को पत्र लिखकर एम्बुलेंस की मांग कर रहे है। बालिका को सर्पदंश के बाद परिजन मोटरसाइकिल पर बिठाकर अस्पताल लेकर आए थे। बालिक की हालत ज्यादा खराब होने पर उसे रेफर कर दिया गया था और उसे निजी वाहन से अस्पताल ले जाया जा रहा था। मगर बालिका की मृत्यु हो गई।
डॉ.अभिषेक मीणा चिकित्साधिकारी, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पहाड़ा

surendra rao Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned