छात्रसंघ चुनाव: सख्ती के दावे, पर उदयपुर में पहले ही दिन उड़ी धज्जियां

सरकार ने विश्वविद्यालयों को दिए कार्रवाई के निर्देश, अवमानना पर भुगतना होगा खमियाजा

By: Krishna

Updated: 18 Aug 2017, 12:58 PM IST

उदयपुर. हाईकोर्ट के आदेश के चलते छात्रसंघ चुनाव को लेकर राज्य सरकार इस बार सख्त रवैया अपना रही है। उसने विश्वविद्यालयों को चुनाव में सख्ती दिखाते हुए कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। दूसरी ओर, चुनाव की तिथि घोषित होने के दूसरे ही दिन विश्वविद्यालय परिसर बैनरों से पटना शुरू हो गया।


सुखाडि़या विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. जेपी शर्मा के अनुसार प्रत्याशियों के साथ कोई रियायत नहीं बरती जाएगी। जो लिंगदोह कमेटी की सिफारिशों की पालना नहीं करेगा, उसे खमियाजा भुगतना पड़ेगा। सरकार ने सिफारिशें नहीं मानने वालों के खिलाफ अनिवार्य रूप से कार्रवाई के लिए कहा है।

कैंपस के बाहर लगी प्रचार सामग्री हटाएं
कुलपति प्रो. शर्मा ने कहा कि प्रत्याशी कॉलेज व विवि कैंपस के बाहर लगी अपनी समस्त प्रचार सामग्री हटा लें। शहर में किसी भी प्रत्याशी की प्रचार सामग्री मिलने की स्थिति में नामांकन रद्द कर दिया जाएगा। साथ ही शहर में रैली, सभाएं, घर-घर सम्पर्क की भी जांच की जाएगी। दोषी पाने पर कार्रवाई होगी। इसके लिए प्रत्याशी की जिम्मेदारी रहेगी।

 

READ MORE: उदयपुर से टाइगर टी-24 को बाहर शिफ्ट करने का फिलहाल कोई प्लान नहीं : खींवसर 


आचार संहिता लागू, बनी कमेटियां
सुविवि में गुरुवार से ही आचार संहिता लागू हो गई है, लेकिन प्रत्याशी इसको लेकर पहले दिन ही गंभीर नहीं नजर आए। संघटकों महाविद्यालयों में विजिटिंग कार्ड पड़े मिले। कॉलेज की दीवारों, कैंटिन इत्यादि जगहों पर प्रत्याशियों ने कार्ड लगा रखे हैं लेकिन प्रत्याशियों ने उन्हें हटाने की जिम्मेदारी नहीं समझी। कुलपति प्रो. शर्मा ने बताया कि विश्वविद्यालय व महाविद्यालय स्तर पर कमेटियों का गठन किया गया है। कमेटियां इन पर नजर रखेगी।


बड़े स्तर पर होगी वीडियोग्राफी
चुनाव प्रचार पर निगरानी के लिए विवि प्रशासन व्यापक स्तर पर वीडियोग्राफी करवाएगा। शहर के प्रमुख चौराहों, मार्गों पर विशेष नजर रहेगी। बैनर व होर्डिंग्स लगाने, रैलियां करने आदि की स्थिति में नामाकंन नहीं कर सकेंगे। साथ ही संघटक महाविद्यालयों में लगे बैनर्स, कार्ड्स की भी नियमित रिकॉर्डिंग होगी। प्रिन्टेड सामग्री पाने पर कार्रवाई होगी।

Krishna Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned