छात्रसंघ चुनाव: उदयपुर में 24  या 26 अगस्त को  हो सकते हैं चुनाव!

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की उदयपुर यात्रा के

By: Krishna

Published: 18 Aug 2017, 01:16 PM IST

 उदयपुर. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की उदयपुर यात्रा के मद्देनजर छात्रसंघ चुनाव 24  या 26 अगस्त को करवाए जा सकते है। इसमें २६ अगस्त पर सरकार के मोहर लगने की संभावना ज्यादा जताई जा रही है। हालांकि इस पर अंतिम फैसला होना बाकी है। हाईकोर्ट के निर्देश एवं गत वर्ष की व्यवस्था को देखते हुए इस बार भी चुनाव निर्धारित तिथि से पहले करवाने की संभावना अधिक है। सरकार ने सुविवि प्रशासन से चुनाव की तिथि को लेकर जानकारी मांगी थी। कुलपति प्रो. जेपी शर्मा ने बताया कि सरकार ने 24, 26  व 30 अगस्त को चुनाव करवाने की संभावनाओं के बारे में पूछा है। विवि प्रशासन ने सरकार को दिए जवाब में कहा कि तैयारियां पूरी कर ली गई है। सरकार जब भी कहेगी, चुनाव करवाने के लिए तैयार हैं।

student election

एमपीयूएटी में तैयारियां पूरी
छात्रसंघ चुनाव को लेकर महाराणा प्रताप कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय प्रसाशन ने भी तैयारियां पूरी कर ली है। कुलपति प्रो. उमाशंकर शर्मा ने बताया कि इसके लिए विवि व महाविद्यालय स्तर पर कमेटियां बना ली गई है। महाविद्यालय के डीन नोडल ऑफिसर होंगे। जल्द ही सभी छह संघटक महाविद्यालयों में आईडी कार्ड बांट लिए जाएंगे। प्रो. शर्मा ने कहा कि लिंगदोह कमेटी की पालना के लिए विवि सख्ती बरतेगा। दोषी पाने पर नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी। सरकार जिस दिन भी कहेगी, हम चुनाव के लिए तैयार है।


प्रचार की भी देनी होगी जानकारी
अगर कोई व्यक्ति, संस्थान किसी प्रत्याशी के लिए प्रचार करते हैं तो उसकी जानकारी प्रत्याशी विवि को देगा। साथ ही चुनाव खर्च भी बताना होगा। इसके लिए विवि की अनुमति अनिवार्य रहेगी। प्रत्याशी को कैंपस के बाहर प्रचार के लिए विवि प्रशासन से लिखित अनुमति लेनी होगी और इसके कारण बताने होंगे।

 

READ MORE: छात्रसंघ चुनाव: सख्ती के दावे, पर उदयपुर में पहले ही दिन उड़ी धज्जियां


यह है लिंगदोह कमेटी की सिफारिशें
- प्रिन्टेड पोस्टर्स और कार्ड्स का उपयोग नहीं किया जा सकता है।
- हस्तनिर्मित पोस्टर्स का उपयोग प्रशासन की ओर से निर्धारित स्थान पर ही कर सकते हैं।
- पांच हजार रुपए से अधिक खर्च पर उम्मीदवार का चुनाव रद्द कर दिया जाएगा।
- राजनीतिक संगठनों से दान राशि लेना प्रतिबंधित है।
- विवि व कॉलेज परिसर के बाहर रैलियां, जनसभा व प्रचार सामग्री नहीं बांट सकते हैं।
- प्रचार के लिए लाउड स्पीकर्स, वाहनों व जानवरों का उपयोग निषिद्ध है।
- छात्रसंघ संविधान, लिंगदोह कमेटी की सिफारिशों व सरकार के निर्देशों की अवहेलना पर कार्रवाई होगी।
- चुनाव प्रचार में बाहरी छात्र  पाने पर उसके विरूद्ध सख्त कार्रवाई होगी।
- जाति, धर्म, सम्प्रदाय व भाषा  के आधार पर प्रचार नहीं कर सकते हैं।
- प्रलोभन देकर वोट नहीं मांग सकते हैं।
- प्रचार के लिए धार्मिक स्थानों का उपयोग प्रतिबंधित है।
- उपरोक्त सिफारिशों की अवमानना पर नामांकन रद्द किए जा सकता है।

Krishna Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned