शिक्षक ने स्कूल समय में मुख्यालय छोड़ा तो उनकी खैर नहीं

शिक्षक ने स्कूल समय में मुख्यालय छोड़ा तो उनकी खैर नहीं

Bhagwati Teli | Updated: 10 Jul 2019, 01:14:33 PM (IST) Udaipur, Udaipur, Rajasthan, India

संगठनों से जुड़े शिक्षक मांगों को लेकर आए दिन धरना प्रदर्शन करते हुए ज्ञापन देने पहुंचते हैं। कई बार स्कूल समय में ही शिक्षक मुख्यालय छोड़ धरने में शामिल होने पहुंच जाते हैं। इस पर माध्यमिक निदेशक ने सख्ती दिखाई है। माध्यमिक शिक्षा विभाग के निदेशक नथमल डिडेल ने मंगलवार को आदेश जारी किए।

उदयपुर.संगठनों से जुड़े शिक्षक मांगों को लेकर आए दिन धरना प्रदर्शन करते हुए ज्ञापन देने पहुंचते हैं। कई बार स्कूल समय में ही शिक्षक मुख्यालय छोड़ धरने में शामिल होने पहुंच जाते हैं। इस पर माध्यमिक निदेशक ने सख्ती दिखाई है। माध्यमिक शिक्षा विभाग के निदेशक नथमल डिडेल ने मंगलवार को आदेश जारी किए। निर्देश दिए कि शिक्षकों को मांग से जुड़ी कोई बात जनप्रतिनिधियों, मंत्री या अधिकारियों तक पहुंचानी है तो वे मुख्यालय छोडऩे से पूर्व अवकाश स्वीकृत करवाएं। यही नहीं ब्लॉक, जिला मुख्यालय पर भी इस तरह की गतिविधि होती है तो बिना पूर्व सूचना के स्कूल छोडऩे पर कार्मिक खुद और संस्थाप्रधान जिम्मेदार होंगे। ऐसे में उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

इसलिए यह आदेश
शिक्षक विभिन्न शिक्षक संगठनों के बैनर तले धरना प्रदर्शन में शामिल होने पहुंचते हैं, वे स्कूल समय में ही चले जाते हैं। लिहाजा स्कूलों में शिक्षण कार्य प्रभावित होता है। नामांकन वृद्धि, शिक्षण गुणवत्ता और परीक्षा परिणाम पर भी असर पड़ता है। स्पष्ट किया गया कि स्कूल समय के बाद कर्मचारी के मुख्यालय छोड़े तो किसी तरह की परेशानी नहीं है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned