scriptघर से ही हो बच्चों को संस्कारित करने की शुरुआत: गुलाब कोठारी | Teaching of values ​​to children should start from home, Gulab Kothari Samvad Setu Program in Udaipur | Patrika News
उदयपुर

घर से ही हो बच्चों को संस्कारित करने की शुरुआत: गुलाब कोठारी

पत्रिका समूह के प्रधान संपादक गुलाब कोठारी ने कहा कि आज की शिक्षा में संस्कार नहीं रहे, जिससे हमारा सामाजिक परिवेश तेजी से बदल रहा है।

उदयपुरJul 03, 2024 / 11:22 am

Anil Prajapat

Gulab Kothari-1
Udaipur News : पत्रिका समूह के प्रधान संपादक गुलाब कोठारी ने कहा कि आज की शिक्षा में संस्कार नहीं रहे, जिससे हमारा सामाजिक परिवेश तेजी से बदल रहा है। आज की शिक्षा, मातृत्व और परवरिश पर गहरी चिंता जाहिर करते हुए कोठारी ने कहा कि बच्चों को संस्कारित करने का जिम्मा स्कूलों पर ही नहीं छोड़े। हमें इसकी घर से ही शुरुआत करनी होगी।
कोठारी मंगलवार को उदयपुर में ‘संवाद सेतु’ कार्यक्रम में शहर के जनप्रतिनिधियों, शिक्षाविदों, राजनीतिक एवं सामाजिक संगठनों के प्रतिनिधियों व व्यवसाइयों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि आज हम पैसे के पीछे भाग रहे हैं, फिर भी सुखी नहीं है। इसकी कोई गारंटी नहीं कि पैसा है तो आदमी सुखी होगा। उन्होंने चिंता जताई कि संयुक्त परिवार का ताना-बाना टूूट रहा है। पैसा कमाना गलत नहीं है। लेकिन कितना और क्यों कमाना है? इस क्यों का जवाब किसी के पास नहीं है।
उन्होंने कहा कि आज हम जड़ों से अलग होकर भौतिकवादी दृष्टिकोण से देख रहे हैं। राजनीति ने हमें और खराब कर दिया। नेताओं ने वोटों के खातिर सामाजिक ताने-बाने को बिगाड़ दिया। उन्होंने कहा कि हमें विचार करना होगा कि कैसे इस माहौल में आगे बढ़ने का रास्ता ढूंढें। किस प्रकार घर का सुख मेरे हाथ में हो। आज किसी के पास अपने बच्चों के लिए टाइम नहीं। परिवार में तीन जने हैं तो घर में तीनों अलग-अलग मोबाइल में व्यस्त नजर आते हैं।

बीज का अपना महत्व

कोठारी ने कहा कि बीज का अस्तित्व तभी है, जब वह वृक्ष बनकर छाया और फल दे। आज हम लोग अपने फल को स्वाद खुद ही चखना चाहते हैं और यही समस्या की जड़ है। हम जो अर्जित कर रहे हैं, उसका सार्थकता तभी है, जब वह हमारी आने वाली पीढ़ी के काम आए।

संगठनों, प्रबुद्धजनों ने किया स्वागत

शहर के विभिन्न सामाजिक संगठनों और प्रबुद्धजनों ने उपरणा, शॉल, श्रीफल से प्रधान संपादक कोठारी का स्वागत किया। इस दौरान शहर विधायक ताराचंद जैन, पूर्व कलक्टर ताराचंद मीणा, एमपीयूएटी के कुलपति प्रो. अजीत कर्नाटक, राजस्थान विद्यापीठ के कुलपति प्रो. एसएस सारंगदेवोत, महापौर जीएस टांक, उपमहापौर पारस सिंघवी, सकल जैन समाज उदयपुर अध्यक्ष राजकुमार फत्तावत, बार एसोसिएशन उदयपुर अध्यक्ष भरत जोशी सहित शहर के प्रबुद्धजनों की मौजूदगी रही।

Hindi News/ Udaipur / घर से ही हो बच्चों को संस्कारित करने की शुरुआत: गुलाब कोठारी

ट्रेंडिंग वीडियो