तहसीलदार के निरीक्षण के दौरान यहां मिली अनियमितताएं, अधिकारियों को लगाई फटकार

तहसीलदार के निरीक्षण के दौरान यहां मिली अनियमितताएं, अधिकारियों को लगाई फटकार

Bhagwati Teli | Updated: 16 Jun 2019, 02:20:26 PM (IST) Bhatewar, Udaipur, Rajasthan, India

अनियमितताओं को लेकर बीसीएमओ को दिए निर्देश

हेमन्त गगन आमेटा/भटेवर. चिकित्सालयों में विभिन्न बीमारियों का उपचार करवाने के लिए प्रतिदिन कई रोगी आते जाते रहते हैं इस दौरान चिकित्सक मरीजों को दवाई के साथ आस पास साफ सफाई रखने के लिए परामर्श भी देते हैं लेकिन जब चिकित्सालयों में ही गंदगी के अंबार लगे हो और अस्पताल में जगह जगह धूल मिट्टी और कूड़े के ढेर लगे हो तो भला मरीज इन हानिकारक जीवाणुओं से पनपने वाले रोगों से कैसे बच सकते है। ऐसे ही हाल कुछ राजकीय प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र रुन्डेडा के हैं।

जहां वल्लभनगर तहसीलदार संदीप अरोड़ा एकाएक निरीक्षण करने पहुंचे तो कई प्रकार की अनियमितता सामने आई। तहसीलदार अरोड़ा ने बताया कि अस्पताल में निरीक्षण के दौरान चिकित्साधिकारी कांता जणवा, मेलनर्स महेंद्र पुजारी, प्रदीप प्रजापत, एएनएम मंजू चित्तोड़ा, सुरेश जाट, हजारी जाट एवं सभी अधिकारी उपस्थित पाए गए। इस दौरान तहसीलदार अरोड़ा ने चिकित्साधिकारी से व्यवस्थाओं और सुविधाओं के बारे रिपोर्ट लेते हुए चिकित्सालय का निरीक्षण किया। जिसमें दवा वितरण काउंटर, लेबर रूम, महिला वार्ड और पुरुष वार्ड में बेडो पर गद्दे, तकिया, चादरों की काफी समय से धुलाई नही हुई।

इसके अलावा वार्डो से लेकर बरामदों, अस्पताल परिसर में साफ सफाई नहीं होकर जगह जगह कचरा बिखरा पड़ा हुआ दिखाई दिया। इसके अलावा परिसर में लापरवाही से कई जगह बायोवेस्ट के ढेर लगे होकर कई तरह की अनियमितता पाई गई। इसको लेकर तहसीलदार अरोड़ा ने अधिकारियों को जमकर फटकार लगाते हुए बीसीएमओ डॉ महेंद्र लौहार को स्वास्थ्य केंद्र परिसर में साफ सफाई के बारे में आगाह किया। इसी बीच ग्रामीणों ने बताया कि रात्रि के समय चिकित्सा अधिकारी सहित स्टाफ नहीं होने के कारण आपातकालीन स्थिति में रोगियों को उपचार के लिए खेरोदा जाना पड़ता है इस बारे में भी बी सी एम ओ से बात कर समस्या का निराकरण के निर्देश गए। इसके अलावा तहसीलदार द्वारा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र एवं रास्ता भूमि के परस्पर निराकरण हेतु उचित समाधान करवाने का भी आश्वासन दिया गया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned