रात की दहलीज पर ठंड की दस्तक , न्यूूनतम तापमान 16 डिग्री पहुंंचा

ठंड बढ़ने के साथ बुवाई ने पकड़ा जोर , 15 हजार बीघा पर हुई सरसों चने की बुवाई

By: madhulika singh

Published: 29 Oct 2020, 04:34 PM IST

मेनार . बीते दिनों उच्च हिमालयी क्षेत्र सहित पहाड़ी इलाकोंं में बर्फबारी के बाद निचले इलाकों के साथ ही मैदानी क्षेत्रों में भी ठंड का अहसास बढ़ गया है। बर्ड विलेज मेनार में सुबह व शाम में ठंड का अहसास हाेने लगा है। यहां मंगलवार को न्यूनतम पारा 16 डिग्री पर पहुंच गया है वहींं अधिकतम तापमान 32 डिग्री रहा। पिछले 2 दिनों के मुकाबले अधिकतम तापमान में 1 डिग्री व रात के तापमान में 2 से 3 डिग्री की कमी आई है। अचानक से तापमान लुढ़कने का कारण उत्तर भारत में हुई बर्फबारी व राजस्थान में नमी कम होने के साथ उत्तरी-पश्चिमी हवा शुरू हो चुकी है, जिससे मौसम में ठिठुरन बढ़ गई है। इसलिए रात में सर्दी अचानक बढ़ गई है। क्षेत्र में खेत खलिहानों में अल सुबह हल्का कोहरा छा रहा है। तापमान घटने के साथ हाइवे के समीप वाले इलाका माल क्षेत्र में ठंड का असर ज्यादा है। ऐसे में यहां होटल , पेट्रोल पंप पर लोग अलाव का सहारा लेने लगे हैंं। मेनार माल क्षेत्र में 2 - 3 डिग्री तापमान अन्य जगह से कम रहता है । इस साल सर्दी का प्रकोप ज्यादा असरदार होगा। जिसकी शुरुआत महज कुछ दिनों में हो जाएगी। मानसून की विदाई के साथ पश्चिमी विक्षोभ के चलते बीते कई दिनों से अब छितराए बादल का दौर भी खत्म हो चुका है। इससे मौसम साफ हो गया और सर्दी का हल्का एहसास अब शाम होने लगा है। इसलिए सुबह शाम गर्म कपड़ों का सहारा लेने लगे है।

ठंड बढ़ने के साथ बुवाई ने पकड़ा जोर

जिले में ठंड की दस्तक के साथ रबी की बुवाई ने भी जोर पकड़ लिया है। अन्नदाता रबी फसलों की बुआई में जुटे हुए हैं। साथ ही नवंबर की शुरूआत तक सरसों व चने की बुआई, गेहूं व जौ की बुआई नवंबर के अंत तक की जा सकेगी। कृषि अधिकारी मदन सिंह शक्तावत ने बताया कि अभी तक 3075 हैक्टेयर क्षेत्र में रबी की बुवाई हो चुकी है।

madhulika singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned