scriptThe young man was kidnapped and left after 28 hours | युवक का अपहरण कर बेहोश किया, 28 घंटे बाद छोड़ गए | Patrika News

युवक का अपहरण कर बेहोश किया, 28 घंटे बाद छोड़ गए

प्रतापनगर थाना क्षेत्र की घटना

उदयपुर

Published: April 04, 2022 01:06:01 am

शहर के प्रतापनगर थाना क्षेत्र में एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है। दो बदमाशों ने शनिवार दोपहर एक युवक का अपहरण कर लिया। फिर 28 घंटे बाद उसे पुन: छोड़ दिया। इस बीच उसे इंजेक्शन लगाकर बेहोश करके रखा। युवक के पास से दस हजार रुपए और करीब एक लाख कीमत के सोने-चांदी के जेवर छीन लिए।
युवक का अपहरण कर बेहोश किया, 28 घंटे बाद छोड़ गए
युवक का अपहरण कर बेहोश किया, 28 घंटे बाद छोड़ गए
जानकारी के अनुसार चंद्रा कॉलोनी प्रतापनगर निवासी 22 वर्षीय राजेंद्र सिंह पुत्र विजय सिंह का अपहरण हो गया था। रविवार रात अचानक राजेंद्र ने परिजनों को कॉल करके बताया कि उसका अपहरण हो गया और अब वह देबारी के पास खड़ा है। परिजन मौके पर पहुंचे और राजेंद्र को घर लाए।
उसने बताया कि वह देबारी जिंक क्षेत्र से कूरियर संबंधी कार्य के 10 हजार रुपए लेने शनिवार दोपहर 1.30 बजे गया था। वह रुपए लेकर खड़ा था कि एक वेन पास आकर रुकी, जिसमें सवार दो लोगों ने उसे खींचकर वेन में डाल दिया। मुंह पर कपड़ा बांधकर दबाए रखा और इंजेक्शन लगाकर बेहोश कर दिया। रविवार सुबह होश आने पर राजेंद्र को पता चला कि उसे इडाणा माता क्षेत्र में किसी खंडहरनुमा मकान में पटक रखा है। दिनभर वहीं पटके रखने के बाद शाम को बदमाश पुन: राजेंद्र को वेन में डालकर लाए और साकरोदा के पास छोड़कर भाग गए। वह जैसे-तैसे देबारी के यहां पहुंचा और किसी से मोबाइल मांगकर परिजनों को सूचना दी। बदमाशों ने राजेंद्र की सोने की चेन, तीन अंगूठियां, कान की बालियां, चांदी का कड़ा, मोबाइल और दस हजार रुपए ले लिए थे।
पुलिस ने हल्के में लिया केस

ट्रांसपोर्ट ऑर्गेनाजेशन के पदाधिकारी नरेन्द्र सिंह शेखावत ने राजेंद्र सिंह के केस में जब प्रतापनगर थाने में संपर्क किया तो पुलिस ने हल्के में लेते हुए संतुष्टीप्रद जवाब नहीं दिया। हेडकांस्टेबल अशोक शर्मा और अमरसिंह जांच एक-दूसरे के पास होना बताते हुए टालते रहे।
यह था केस

पिता की ओर से प्रतापनगर थाने में दी गई रिपोर्ट में बताया गया कि राजेंद्र सिंह शनिवार सुबह 11 बजे अपने कूरियर संबंधी कार्य के लिए घर से निकला था। शाम तक घर नहीं आने पर परिजनों ने प्रतापनगर थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई। राजेंद्र रेती स्टैंड स्थित एक कूरियर कंपनी में काम करता है, जबकि उसके पिता सुखाडिय़ा विश्वविद्यालय में ड्राइवर हैं। राजेंद्र की शादी चार माह पूर्व ही हुई थी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

नाम ज्योतिष: ससुराल वालों के लिए बेहद लकी साबित होती हैं इन अक्षर के नाम वाली लड़कियांभारतीय WWE स्टार Veer Mahaan मार खाने के बाद बौखलाए, कहा- 'शेर क्या करेगा किसी को नहीं पता'ज्योतिष अनुसार रोज सुबह इन 5 कार्यों को करने से धन की देवी मां लक्ष्मी होती हैं प्रसन्नइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथअगर ठान लें तो धन कुबेर बन सकते हैं इन नाम के लोग, जानें क्या कहती है ज्योतिषIron and steel market: लोहा इस्पात बाजार में फिर से गिरावट शुरू5 बल्लेबाज जिन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में 1 ओवर में 6 चौके जड़ेनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

दिल्ली हाई कोर्ट से AAP सरकार को झटका, डोर स्टेप राशन डिलीवरी योजना पर लगाई रोकसुप्रीम कोर्ट का फैसला: रोड रेज केस में Navjot Singh Sidhu को एक साल जेल की सजा, जानें कांग्रेस नेता ने क्या दी प्रतिक्रियाGST पर सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला, जीएसटी काउंसिल की सिफारिश मानने के लिए बाध्य नहीं सरकारेंपंजाब कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष सुनील जाखड़ BJP में शामिल, दिल्ली में जेपी नड्डा ने दिलाई पार्टी की सदस्यताअलगाववादी नेता यासीन मलिक आतंकवाद से जुड़े मामले में दोषी करार, 25 मई को होगी अगली सुनवाईज्ञानवापी मस्जिद-श्रृंगार गौरी विवाद : वाराणसी कोर्ट की कार्रवाई पर सुप्रीम कोर्ट की रोक, शुक्रवार को होगी सुनवाईAssam Flood Situation: बाढ़ का जायजा लेने पहुंचे BJP विधायक को जवान ने पीठ पर लादकर नाव तक पहुंचायाउदयपुर नव संकल्प पर अमल: अब कांग्रेस भी बनेगी 'प्रोफेशनल', देशभर में 6500 पूर्णकालिक कार्यकर्ता नियुक्त करने की तैयारी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.