तृतीय श्रेणी के तबादलों में हुआ ये बड़ा खेल, मनाही के बावजूद शिक्षकों को टीएसपी से नॉन टीएसपी में क‍िया र‍िलीव

अधिसूचना को ताक में रख कर बांटी रेवडि़यां, टीएसपी में पदस्थापित कार्मिक के टीएसपी में
स्थानांतरण के प्रतिबंध की हुई अनदेखी

By: madhulika singh

Published: 07 Jun 2018, 03:01 PM IST

भुवनेश पंड्या/ उदयपुर . प्रारंभिक शिक्षा विभाग कैसे आदेशों को ताक में रखकर रेवडिय़ां बांटता है, जिसका इससे बड़ा उदाहरण कोई नहीं होगा। राष्ट्रपति ने गत दिनों उदयपुर व अन्य जिलों को टीएसपी क्षेत्र घोषित कर दिया था, इसके बावजूद तृतीय श्रेणी के तबादलों में शिक्षकों को टीएसपी से नॉन टीएसपी में जाने का तोहफा दे दिया। हालांकि 31 मई को तबादलों के बाद 1 जून को राज्य सरकार ने एक आदेश जारी किया था कि किसी भी शिक्षक को टीएसपी से नॉन टीएसपी में रिलीव नहीं किया जाए। जब कई शिक्षक रिलीव हो गए तो डीईओ ने तत्काल आदेश जारी कर ऐसे शिक्षकों को कार्यमुक्त करने वालों पर कार्रवाई की तलवार लटका दी।


568 कार्मिकों के हुए तबादले
सरकार ने प्रारंभिक शिक्षा में 31 मई को जिले के 568 तृतीय श्रेणी शिक्षकों, प्रबोधकों, शारीरिक शिक्षकों के तबादले किए गए, जिसमें टीएसपी में पदस्थापित कार्मिक के टीएसपी में
स्थानांतरण के प्रतिबंध की अनदेखी हुई। इसकी जानकारी पर शासन सचिव भास्कर ए सावंत ने 1 जून को टीएसपी से नॉन टीएसपी क्षेत्र में हुए तबादलों की निरस्तगी के आदेश जारी कर दिए।

 

READ MORE : किसानों की हड़ताल का उदयपुर में पड़ रहा ऐसा असर, इतनी महंगी हुई सब्जियां, गड़बड़ाया रसोई का बजट

 

ये हुए नॉन टीएसपी के लिए रिलीव
- दीपक भाणावत राउप्रावि गणेशजी का गुड़ा गोगुन्दा (टीएसपी ) से उप्रावि नागा नगरी उदयपुर (नॉन टीएसपी ) के लिए 2 जून 18 को रिलीव
- विजयलक्ष्मी पोरवाल राप्रावि आगदोडिया कुराबड़ (टीएसपी ) से उप्रावि रामनगर बडग़ांव (नॉन टीएसपी ) के लिए रिलीव।
- अंजू खींची राप्रावि सुरफलिया गिर्वा (टीएसपी ) से राप्रावि बुधपुरा, बूंदी (नॉन टीएसपी ) के लिए रिलीव।

आज जारी किया आदेश
जैसे ही कई शिक्षकों को टीएसपी से नॉन टीएसपी में रिलीव करने की जानकारी अन्य शिक्षकों तक पहुंची तो उन्होंने इसका विरोध शुरू कर दिया। शुरू में विभाग के अधिकारियों और बाबुओं ने उन्हें अंदरखाने समझाइश देते रहे कि धीरे-धीरे सब हो जाएगा। अभी इसकी कहीं चर्चा नहीं करें, लेकिन जब विरोध करने वाले शिक्षकों की संख्या बढऩे लगी तब डीईओ आरके गर्ग ने 6 जून को तत्काल आदेश जारी कर दिया कि टीएसपी से नॉन टीएसपी में स्थानान्तरण यानी कार्यमुक्त करने की शिकायत प्राप्त हुई है, उनके विरूद्ध अनुशासनात्मक कार्रवाई शुरू की जा रही हैं। साथ ही उन्होंने उल्लेख किया कि किसी भी स्थिति में टीएसपी से नॉन टीएसपी कार्यमुक्त नहीं किए जाएं।

madhulika singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned