तीन साल की बच्ची का दफनाया शव वापस निकलवाया और फिर, जानें पूरा मामला

ननिहाल में बच्ची की मौत का मामला

By: Sikander Veer Pareek

Updated: 10 Apr 2019, 11:27 AM IST

गींगला. कस्बे में सोमवार को तबीयत बिगडऩे से मासूम बच्ची की ननिहाल में मौत हो गई। इसके बाद शव दफना दिया गया। बच्ची के पिता ने हत्या की आशंका जताते हुए पुलिस (Udaipur Police) को रिपोर्ट दी। पुलिस ने शव निकाल कर मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम कराया। उसके बाद पिता को सुपुर्द किया गया। पुलिस मामले में अनुसंधान कर रही है।
गींगला थानाधिकारी गजसिंह ने बताया कि मीणा बस्ती निवासी सवा मीणा की बेटी सोहनी बाई की पहली शादी जावद में करवाई। वहां से वह सवना गांव में अर्जुनलाल पुत्र पेमा मीणा के साथ नाते चली गई। जहां उसने ममता व दूसरी मीनाक्षी को जन्म दिया। 5 साल बाद अनबन के चलते सोहनी एक साल पहले सामतियोत मैथूड़ी में फिर नाते चली गई और वहीं गुजर बसर कर रही है। नाते जाने के बाद इसकी दोनो बेटियां गींगला में नाना के घर रह रही थी। इनमें से ममता (3) की सोमवार को तबीयत खराब होने से मृत्यु हो गई। इस पर शव गींगला में ही दफना दिया गया। इसकी जानकारी मिलने पर ममता के पिता सवना निवासी अर्जुन व उसके परिजन आक्रोशित हो उठे और गींगला पहुंचे। हत्या के आरोप पर पुलिस ने रिपोर्ट लेकर अनुसंधान शुरू किया। एसडीएम प्रकाश चन्द्र रेगर भी सूचना पर मौके पर पहुंचे व थानाधिकारी सहित पुलिस टीम की मौजूदगी में दफनाया गया शव निकालवाया। गींगला सीएचसी पर मेडिकल टीम से पोस्टमार्टम कर शव पिता एवं परिजनों को सौंपा गया, लेकिन उन्होंने वहां से शव ले जाने के बजाय फिर से यहीं दफना दिया। घटना के बाद मौके पर कई ग्रामीण एकत्र हो गए।

Sikander Veer Pareek
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned