अधरझूल में लटका 3 किमी मार्ग, ग्रामीणों को भुगतना पड़ रहा है खामियाजा

अधरझूल में लटका 3 किमी मार्ग, ग्रामीणों को भुगतना पड़ रहा है खामियाजा

Madhulika Singh | Updated: 25 Jun 2019, 07:26:32 PM (IST) Bhatewar, Udaipur, Rajasthan, India

भाजपा कार्यकाल के दौरान वल्लभनगर पूर्व विधायक ने मार्ग पर स्वीकृत करवाया डामरीकरण सरकार बदलने के बाद निरस्त हुआ सड़़क कार्य

हेमन्त गगन आमेटा/भटेवर.. ग्राम पंचायत किकावास के अन्तर्गत आने वाले रेंठेड गांव में 3 किलोमीट रेंठेड से तारावट मार्ग सरकार बदलने के बाद अधरझूूल में लटका हुआ है जिसका खामियाजा कहीं कहीं आमजन को भुगतना पड़़ रहा है। रेंठेड से तारावट मार्ग पर बरसात पानी भरने के कारण कीचड़़ और बडे़ बडे़ खड्डे पड गए हैंं जिनमें पानी भरा हुआ है। जिसके कारण इस मार्ग से गुजरने वाले लोगोंं को समस्या का सामना करना पड़़ रहा है। ग्रामीणोंं ने बताया कि यह मार्ग 3 किलोमीटर आगे तारावट से जुड़़ता हुआ उपखण्ड मुख्यालय वल्लभनगर को जोड़़ता है। तारावट से वल्लभनगर तो डामरीकरण रोड बना हुआ है लेकिन रेंठेड से तारावट 3 किमी कच्चा रास्ता है। इस रास्ते पर बरसात के दिनोंं में पानी भर जाने के साथ कीचड और खड्डे भी पड़़ जाते हैंं जिससे आमजन को आने जाने में परेशानी का सामना करना पड़़ता है। इसके साथ ही इस मार्ग से गुजरने वाले दुपहिया वाहन चालक कई बार स्लिप होकर नीचे गिर गए। हालांकि रेंठेड गांंव से रूण्डेडा होते हुए वल्लभनगर उपखण्ड जाने का मार्ग है लेकिन इसकी लम्बाई अधिक होने के कारण ग्रामीण इस मार्ग का ज्यादा उपयोग करते हैंं। ग्रामीणो ने बताया कि गांंव में 5 वीं तक स्कूल बना हुआ है इसके बाद छात्राेें को आगे की पढाई करने के लिए इस मार्ग से होकर तारावट जाना पडता है जिससे छात्राेें को कई बार दिक्कतोंं का सामना करना पडता है। इसके अलावा किसानोंं की कृषि भूमि पर जाने के लिए पशुओंं को लाने ले जाने के लिए इस मार्ग से ही आते जाते हैंं वहींं गांव में अस्पताल नही होने पर किसी के बीमार हो जाने पर भी इस मार्ग से होकर वल्लभनगर अस्पताल ले जाया जाता है लेकिन इस मार्ग पर कीचड़़ और पानी भरा होने से लोगोंं को समस्या का सामना करना पड़़ता है। गौरतलब है की भाजपा कार्यकाल के दौरान वल्लभनगर के पूर्व विधायक रणधीर भीण्डर द्वारा इस 3 किलोमीटर मार्ग को पक्का बनाने के लिए डामरीकरण का कार्य स्वीकृत करवाया था जो आचार संहिता के कारण इसका काम नही हो पाया था। इसके बाद सरकार बदलने के बाद कांग्रेस शासन में स्वीकृत हुए डामरीकरण मार्ग को निरस्त कर दिया गया जिससे इस मार्ग का काम अभी तक अधरझूूल में लटका हुआ है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned