VIDEO : शंभू निवास पर सभी का अधिकार, मेवाड़ के पूर्व राजघराने की संपति पर फैसला

उदयपुर के एडीजे कोर्ट 2 का फैसला

By: Mukesh Kumar Hinger

Updated: 01 Jul 2020, 12:18 AM IST

Udaipur, Udaipur, Rajasthan, India

उदयपुर. मेवाड़ के पूर्व राजघराने की चल-अचल सम्पत्तियों को लेकर चार दशक से चला पारिवारिक संपत्ति के विवाद का मंगलवार को कोर्ट में निपटारा हो गया। एडीजे-क्रम-2 के पीठासीन अधिकारी महेन्द्र कुमार दवे ने इस सम्पत्ति को चार हिस्सों में बांटते हुए एक हिस्सा दिवंगत महाराणा भगवत सिंह के पक्ष में दिया क्योंकि उनके जीवित रहते यह वाद दायर कर उन्हें प्रतिवादी बनाया गया था। इसके अलावा निर्णय में कोर्ट ने समस्त एस्टेट संपत्ति पर व्यावसायिक गतिविधियां रोकने तथा शंभू निवास पैलेस में महेन्द्रसिंह, उनकी बहन योगेश्वरी देवी और छोटे भाई अरविंदसिंह को अधिकारी माना। तीनों को 4-4 वर्ष के लिए निवास का अधिकार देते हुए पहली वरीयता ज्येष्ठ पुत्र महेन्द्रसिंह मेवाड़ को दी है। यह जानकारी वादी महेन्द्र सिंह के अधिवक्ता महेन्द्र सिंह कच्छावा ने दी। (देखे वीडियो भी)

 

यह खबर भी पढ़े

वीडियो : बड़ा फैसला - पूर्व मेवाड़ राज परिवार की संपतियां चार हिस्से में बंटेगी

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned