भाजपा कार्यालय में करंट से प्लम्बर की मौत के बाद मुआवजे को लेकर मशक्कत

Mohammed Iliyas | Updated: 18 Sep 2019, 12:59:04 PM (IST) Udaipur, Udaipur, Rajasthan, India

भाजपा कार्यालय में करंट से प्लम्बर की मौत के बाद मुआवजे को लेकर मशक्कत

मोहम्मद इलियास/ उदयपुर
पटेल सर्कल स्थित भाजपा कार्यालय में मंगलवार दोपहर को निर्माणाधीन भवन पर काम करते करंट आने से प्लंम्बर की मौत हो गई। वारदात के बाद आक्रोशित परिजनों व रिश्तेदारों ने शव नहीं उठाया। काफी जद्दोजहद के बाद शाम को मुआवजे की राशि तय होने के सभी माने। अभी शव एमबी चिकित्सालय के मुर्दाघर में है। बुधवार सुबह परिजन ले जाएंगें। भाजपा कार्यालय निर्माणाधीन भवन पर ठेकेदार संजय कुमार के अधीन बाघपुरा झाड़ोल हाल मालदास स्ट्रीट घंटाघर निवासी खेमराज पुत्र जगन्नाथ भोई अपने बेटे कैलाश भोई (23) के साथ नल पाइप फिटिंग का काम कर रहा था। काम पूरा होने के बाद कैलाश लोहे की सीढ़ी को लेकर निर्माणाधीन स्थल पर रखने जा रहा था तभी अचानक उसका एक हिस्सा पास से गुजर रही 11 केवी की लाइन से छू गया, करंट के झटके के साथ ही कैलाश नीचे गिर गया। लेकिन सीढ़ी का एक हिस्सा उसके पांव पर गिरने से करंट लगने पर मौके पर ही उसकी मौत हो गई। पिता व अन्य लोग उसे उठाकर एमबी. चिकित्सालय लाए जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। सूचना पर परिजन व रिश्तेदार के अलावा कई भाजपा नेता अस्पताल पहुंच गए। भाजपा शहर जिला महामंत्री प्रेम सिंह शक्तावत, रवि नाहर, सुशील जैन, अतुल जैन, अधिवक्ता प्रवीण खंडेलवाल, राजेंद्र सिंह राठौड़, दिनेश गुप्ता, अशोक सिंघवी, पूर्व पार्षद कमलेश जावरिया, पूर्व मंडल अध्यक्ष राजेश वैष्णव एवं ओबीसी प्रकोष्ठ के पूर्व अध्यक्ष छोगालाल भोई व अन्य भाजपा नेता ने परिजनों से समझाइश की। वे परिजनों को ढाढस बंधाने लगे। रिश्तेदारों ने मुआवजे की मांग करते हुए शव नहीं उठाया। सीआई रामसुमेर व छगन पुरोहित ने इस बीच पोस्टमार्टम की कार्रवाई पूरी की।

विधायक कटारिया ने जताया दुख

भाजपा पदाधिकारियों ने घटना की पूरी जानकारी पूर्व गृहमंत्री गुलाबचंद कटारिया को दी। उन्होंने दुख जताते हुए परिवार को ढाढस बंधाया। सभी नेताओं ने परिजनों व रिश्तेदारों से बातचीत कर डेढ़ लाख देने लगे तो उन्होंने इनकार कर दिया। एक बार सभी वहां से चले गए। उसके कुछ लोगों ने मध्यस्थता करते हुए बेटी को सरकारी नौकरी व तीन लाख रुपए का मुआवजा दिलाने का प्रस्ताव रखा। कुछ राशि देने के बाद सभी रजामंद हुए। इधर, पूर्व पार्षद अजय पोरवाल ने इस घटनाक्रम के बाद ठेकेदार व अन्य विरुद्ध गैर इरादतन हत्या में मामला दर्ज करने की मांग की।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned