सोशल डिस्टेंसिंग व मास्क के लिए भी दिखाना पड़ रहा है डंडा, समझाइश पर नहीं मान रहे

सोशल डिस्टेंसिंग व मास्क के लिए भी दिखाना पड़ रहा है डंडा, समझाइश पर नहीं मान रहे

By: Mohammed illiyas

Published: 22 Jun 2020, 10:54 PM IST

मोहम्मद इलियास/उदयपुर
कोविड-19 महामारी के कारण लॉकडाउन के चलते जहां लोग घरों में ‘कैद’ होकर बाहर निकलते ही सोशल डिस्टेंसिंग व मास्क के उपयोग की पालना कर रहे हैं वहीं अब भी कई लोग ऐसे हैं, जिन्हें सिर्फ डंडा ही समझ आ रहा है। पुलिस ने उनसे समझाइश करने के साथ ही उनके चालान बनाते हुए जुर्माना वसूला।लॉकडाउन के बाद पुलिस ने शहर में वाहनों को प्रतिबंधित करने के साथ ही लोगों की आवाजाही को पूरी तरह से रोक दिया था। उसके बाद भी कई लोग बिना कारण ही घरों से बाहर निकले तो पुलिस ने पहले उनसे समझाइश की, नहीं मानने पर करीब छह हजार से ज्यादा वाहनों को जब्त करते हुए चालान काटे। वाहनों को लॉकडाउन की अवधि में थाना-चौकी पर खड़ा रखा तो लोग घरों से निकलना बंद हुए। इसके बाद पुलिस ने धूम्रपान प्रतिबंधित पर कई कार्रवाई करते हुए मामले दर्ज किए। अभी पुलिस लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग व मास्क की पालना के लिए बार-बार अपील कर रही है फिर कुछ लोग अब भी ऐसे हैं जो बाज नहीं आ रहे हैं। ऐसी स्थिति में पुलिस ने मास्क व सोशल डिस्टेंसिंग के साथ ही प्रशासनिक आदेशों की अवहेलना करने पर 2611 चालान काटते हुए 4 लाख 88 हजार रुपए जुर्माना वसूला।
--
उल्लंघन पर वसूला इतना जुर्माना
- सार्वजनिक स्थान पर मास्क नहीं पहनने पर चालान-1285, जुर्माना- 2 लाख 57 हजार
- दुकानदार द्वारा मास्क नहीं पहनने पर चालान - 217, जुर्माना- 1 लाख आठ हजार
- सार्वजनिक स्थान पर थूकने पर चालान -10, जुर्माना- 2000
- सार्वजनिक स्थान पर शराब पीने पर चालान - 3, जुर्माना- 1500
- सोशल डिस्टेंसिंग नहीं रखने पर चालान- 1085, जुर्माना- 1 लाख 8 हजार 500
- कोविड में आदेशों के उल्लंघन पर चालान- 2611, जुर्माना-4लाख 88 हजार 500
----
पालना के लिए कर रहे पाबंद सोशल डिस्टेंसिंग व मास्क को लेकर लोगों में जागरूकता आई है। अब भी कुछ लोग इसकी पालना नहीं कर रहे हैं। ऐसी स्थिति में उनके चालान काटने के साथ ही पालना के लिए पाबंद किया जा रहा है।
कैलाशचन्द्र बिश्नोई, पुलिस अधीक्षक

Mohammed illiyas Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned