परिजनों की मारपीट से तंग आकर बालक ने छोड़ा घर

कर्नाटक से उदयपुर सिटी रेलवे स्टेशन आया बालक, रेलवे चाइल्ड लाइन ने दिलाया आश्रय

By: Pankaj

Published: 12 Feb 2021, 11:29 PM IST

उदयपुर. महिला एवं बाल विकास मंत्रालय (जतन संस्थान) की ओर से संचालित रेलवे चाइल्ड लाइन को सिटी रेलवे स्टेशन पर एक बालक मिला। वह परिजनों की मारपीट से तंग आकर घर से निकल गया था। बालक कर्नाटक से ट्रेन में बैठकर उदयपुर तक पहुंच गया।

रेलवे चाइल्ड लाइन समन्वयक मोईन मंसूरी ने बताया कि 16 वर्षीय बालक, जो अपना नाम मुन्नी कृष्णा पुत्र वेगटेंन अप्पा बता रहा है और मूलभागिलो सपलम दोसाना, जिला कोल्लम, कर्नाटक निवासी है। पूछताछ में बालक ने बताया कि माता-पिता मारपीट करते थे, काम करने का दबाव बनाते थे, जिससे तंग आकर घर छोड़ आया। वह घर से 15 दिन पहले निकल गया था। मेवाड़ एक्सप्रेस ट्रेन से उदयपुर सिटी रेलवे स्टेशन तक आ पहुंचा। रेलवे चाइल्ड लाइन ने बालक से पूछताछ कर उसे बाल कल्याण समिति के समक्ष प्रस्तुत किया, जहां से बालक को नारायण सेवा संस्थान में अस्थाई आश्रय दिलाया गया। कार्रवाई में रेलवे चाइल्ड लाइन से मोहन लाल, सत्यनारायण की मौजूदगी रही।

Pankaj Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned