तलवार के दम पर लूट करने वाली गैंग का फर्दाफाश

दो आरोपी गिरफ्तार व दो बाल अपचारी डिटेन, झाड़ोल, नाई, अम्बामाता एवं गोगुन्दा थाना क्षेत्रों में की वारदातें

By: Pankaj

Published: 20 Feb 2021, 08:27 PM IST

उदयपुर. बीते एक सप्ताह में शहर के निकटवर्ती झाड़ोल, नाई, अम्बामाता एवं गोगुन्दा थाना क्षेत्रों में राह चलते लोगों पर तलवार से हमला कर लूट करने वाली गैंग का पुलिस ने पर्दाफाश किया है। गैंग के दो आरोपियों का गिरफ्तार किया, वहीं दो बाल अपचारियों को डिटेन किया गया है। आरोपी एमबी हॉस्पिटल की पार्किंग में काम करते हैं। ये दिनभर पार्किंग में पर्चियां काटते, रात में लोगों से लूट कर रहे थे।
गैंग का पर्दाफाश होने पर जिला पुलिस अधीक्षक डॉ. राजीव पचार ने पत्रकार वार्ता में इसकी जानकारी दी। उन्होंने बताया कि चार थाना क्षेत्रों की सूनसान सड़कों पर बीते एक सप्ताह से लूट की घटनाएं हो रही थी। इस पर विशेष टीमें बनाकर आरोपियों का पता लगाया गया। टीमों ने घटनास्थलों का बारीकी से निरीक्षण किया गया। आसपास रहने वाले लोगों से पूछताछ की गई। लोगों से छीने मोबाइल की लोकेशन जुटाई गई। इसके बाद कई स्थानों पर दबिश दी गई। इस पर आरोपी लखमावतों का गुढ़ा थाना केलवाड़ा निवासी लहर सिंह पुत्र धन सिंह और बाघपुरा झाड़ोल निवासी हेमंत चौधरी उर्फ नेपाली पुत्र लक्ष्मी लाल को बापर्दा गिरफ्तार किया गया। घटनाओं से शामिल दो बाल अपचारियों को निरुद्ध किया गया। आरोपियों ने थाना झाड़ोल से छीनी बाइक का अम्बामाता एवं गोगुन्दा थाना क्षेत्रों की वारदातों में उपयोग किया था। वारदातों के बाद घटनाओं में प्रयुक्त मोटर साइकिलों को एमबी चिकित्सालय की पार्किंग में पुन: खड़ी कर देते।
जानकारी देते समय एएसपी सिटी गोपाल स्वरूप मेवाड़ा, एएसपी मुख्यालय अनन्त कुमार, डिप्टी महेन्द्र पारीक, झाड़ोल डिप्टी गिरधर सिंह, प्रशिक्षु आरपीएस जितेन्द्रसिंह राठौड़, अम्बामाता थानाधिकारी सुनील टेलर, झाड़ोल थानाधिकारी देवीलाल, जिला विशेष टीम प्रभारी हनुवन्त सिंह राजपुरोहित, गोगुन्दा थानाधिकारी प्रवीण सिंह मौजूद थे।
आरोपियों को पकडऩे में गिर्वा वृत्ताधिकारी प्रेम धणदे, नाई थानाधिकारी सबीर खां, गोवर्धनविलास थाने के हेड कांस्टेबल मनोहर सिंह, कांस्टेबल दिनेश सिंह, राजेन्द्र सिंह, नाई थाने से कांस्टेबल जगदीश प्रसाद, नन्द किशोर, साईबर सैल से हेड कांस्टेबल गजराज, कांस्टेबल लोकेश रायकवाल की अहम भूमिका रही।
कबूली कई वारदातें
आरोपियों ने पूछताछ के दौरान हाल ही की वारदातों के अलावा चार अन्य लूट की वारदातें करना भी स्वीकार किया। आरोपी हेमन्त चौधरी के विरुद्ध मारपीट एवं चोरी नकबजनी के पांच प्रकरण और लहरसिंह के विरुद्ध लूट के 02 प्रकरण पहले से ही दर्ज है। एक बाल अपचारी के विरुद्ध भी लूट के 02 प्रकरण पहले से दर्ज है।
इस तरह से दिया वारदातों को अंजाम
गिरफ्तार आरोपी एमबी चिकित्सालय पार्किंग स्टैण्ड पर काम करते हैं। वे योजनाबद्ध तरीके से शहर के आसपास ग्रामीण क्षेत्रों में वारदात कर रहे थे। वे तड़के 3 बजे निकलते और बाइक से आते-जाते लोगों की रैकी करते। सूनसान स्थान पर रास्ता पूछने के बहाने रूकवाते। अपनी बाइक आड़े लगाकर रास्ता रोक देते और तलवार-धारदार हथियार से हमला कर नकदी, मोबाइल व वाहन आदि लूट लेते। पीडि़त की ओर से पुलिस को तत्काल सूचना नहीं दी जा सके, इसके लिए पीडि़त का मोबाइल और बाइक की चाबी भी ले जाते।

Pankaj Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned