केंद्र सरकार की नीतियों के विरोध में धरना

बैंककर्मियों ने किया प्रदर्शन

By: Pankaj

Published: 24 Feb 2021, 12:48 AM IST

उदयपुर. यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियन्स के आह्वान पर शहर के बैंक कर्मचारियों एवं अधिकारियों ने पंजाब नेशनल बैंक टाउनहॉल रोड शाखा के बाहर प्रदर्शन किया। बैंकों के निजीकरण की केंद्र सरकार की नीतियों के विरोध में धरना दिया।

डीके जैन, राजेश जैन, पीएस खींची, एल मारू, बीएल अग्रवाल, मदन मोहन शर्मा, प्रदीप शर्मा के नेतृत्व में 21 बैंक कर्मचारी एवं अधिकारी धरने पर बैठे। धरना सुबह 11 से दोपहर 3 बजे तक चला। धरनार्थियों ने केंद्र सरकार की निजीकरण की नीतियों, जन व श्रम विरोधी नीतियों के विरोध में नारेबाजी की। चेतावनी दी कि मांगें नहीं मानी गई तो बैंककर्मी 15-16 मार्च को दो दिवसीय देशव्यापी हड़ताल करेंगे।
एलआईसी कर्मचारियों ने दिया ज्ञापन
केन्द्र सरकार की ओर से सरकार के प्रभुत्व वाली बीमा कंपनी भारतीय जीवन बीमा निगम की हिस्सेदारी को शेयर के माध्यम से बाजार में बेचने और विदेशी पूंजी निवेश में वृद्धि 49 प्रतिशत से बढ़ाकर 74 प्रतिशत किया। इसके विरोध में एलआइसी कर्मचारी यूनियन नार्दन जोन इंशोरेंस एम्पलाईज एसोशिएसन के प्रतिनिधि मंडल ने मंडल अध्यक्ष एमएल सियाल के नेतृत्व में सांसद को ज्ञापन सौंपा। मंडल सचिव अनूप जैन, मंडल सहसचिव हेमंत सिंह सिसोदिया, प्रेम सिंह, बीएल डांगी, ललित पुष्करणा मौजूद रहे।

Pankaj Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned