पुलिस और तस्करों की मुठभेड़, धांय-धांय कर चली गोलियां

भींडर थानाधिकारी और जाप्ते पर हुई फायरिंग, भींडर के सालेड़ा तिराहे की घटना

By: Pankaj

Published: 05 Mar 2021, 02:11 PM IST

पंकज वैष्णव/उदयपुर. मादक पदार्थ तस्करी की रोकथाम को लेकर पुलिस चौकन्नी है, वहीं बदमाश तस्करी करने से बाज नहीं आ रहे। उदयपुर जिले की सीमा पर तस्कर और नारकोटिक्स टीम के बीच मुठभेड़ की घटना के ठीक दो माह बाद अब पुलिस और तस्कारों के बीच मुठभेड़ हुई। तस्करों ने पुलिस पर गोलियां चलाई और बचाव में पुलिस ने तस्करों पर पर फायर किए। दोनों तरफ से धांय-धांय कर गोलियां चली और फिर तस्कर भाग छूटे।
घटना भींडर थानान्तर्गत सालेड़ा तिराहे की है, जहां गुरुवार तड़के 2.30-3 बजे पुलिस और तस्करों के बीच मुठभेड़ हो गई। थानाधिकारी यशवंत सोलंकी जाप्ते के साथ यहां खड़े थे और आते-जाते संदिग्ध वाहनों से पूछताछ चल रही थी। इसी दौरान सारंगपुरा की तरफ से बिना नम्बर की अल्टो कार आई, आशंका थी कि वह मादक पदार्थ तस्करी वाहन की एस्कोर्टिंग कर रही थी। ऐसे में कार को रोकने का इशारा किया तो चालक कार को तेज गति से दौड़ाकर भगरा ले गया। पुलिस ने कार का पीछा किया। पुलिस आगे की कार्रवाई करती इससे पहले ही सारंगपुरा की ओर से एक सफेद फॉरचुनर कार आई। उसमें बैठे तस्कर ने पुलिस को देखकर फायरिंग कर दी। थानाधिकारी और पुलिसकर्मियों ने जैसे-तैसे जान बचाई और जवाबी फायर में दो गोलियां दागी। चालक कार को तेजी से दौड़ते हुए अरनेड़ गांव की ओर ले गया। तेजी से भागती कार अरनेड़ होते हुए हाइवे पर ओझल हो गई। थानाधिकारी ने पुलिस कंट्रोल रूम को सूचना देकर नाकाबंदी करवाई। दोनों कारों की तलाश सालेड़ा, कलवल, वरणी गांव और हाइवे पर की गई, लेकिन पता नहीं चल पाया। थानाधिकारी ने बदमाशों के विरुद्ध जान से मारने की नीयत से फायरिंग करना और राजकार्य में बाधा पहुंचाने का मामला दज कराया।

Pankaj Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned