जानिए, आज क्यों बंद है पेट्रोल पम्प

पेट्रोल पम्प बंद की सूचना पर रात तक लगी कतारें

By: Pankaj

Published: 10 Apr 2021, 01:01 AM IST

उदयपुर. पड़ोसी राज्यों की तुलना में राजस्थान में पेट्रोल-डीजल महंगा होने से होने वाली परेशानियों के विरोध में पेट्रोल पम्प संचालन हड़ताल करेंगे। ऐसे में शनिवार सुबह 6 से रात 12 बजे तक जिले के सभी पेट्रोल पंप बंद रहेंगे। इसकी सूचना मिलने पर शुक्रवार शाम से रात तक शहर के पेट्रोल पम्पों पर लोगों की कतारें लगी रहीं। आगामी 25 अप्रेल तक राज्य सरकार ने मांगें नहीं मानी तो बेमियादी हड़ताल भी की जा सकती है।
राजस्थान पेट्रोलियम डीलर्स एसोसिएशन के आह्वान पर उदयपुर पेट्रोलियम डीलर्स एसोसिएशन ने पेट्रोल-डीजल की खरीद एवं बिक्री बंद करने का निर्णय लिया है। यह जानकारी पदाधिकारियों ने पत्रकारों से बातचीत में दी। प्रदेश में पेट्रोलियम के दाम अधिक होने से उदयपुर जिले के पेट्रोल पंपों की बिक्री 90 प्रतिशत घट गई है। राजस्थान के मुकाबले गुजरात एवं मध्यप्रदेश में कीमतें कम है, जिससे सीमा से गुजरते वाहन हाइवे पर लगे पम्पों से डीजल-पेट्रोल नहीं खरीदते। अन्य राज्यों से आने वाले वाहन पहले ही डीजल-पेट्रोल फुल करवाकर राजस्थान में प्रवेश करते हैं।

पत्रकार वार्ता में जिलाध्यक्ष आरके धाभाई, सचिव राजराजेश्वर जैन, उपाध्यक्ष विकास अग्रवाल, सहसचिव मनोज गोयल, वित्त सचिव राजेंद्र जैन मौजूद थे। बताया कि खेरवाड़ा से आगे भारत पेट्रोलियम कंपनी के दो पेट्रोल पम्प की प्रतिदिन की बिक्री 80 हजार और 60 हजार लीटर प्रतिदिन थी। राज्य सरकार की ओर से कोरोना काल में तीन बार वेट बढ़ाने पर बढ़ी कीमतों से अब दोनों पम्पों की बिक्री मात्र तीन हजार लीटर और दो हजार लीटर रह गई है। सीमावर्ती जिलों में लोग अन्य राज्यों से ड्रम एवं केन भरकर डीजल पेट्रोल ला रहे हैं और गांव में इनकी बिक्री कर रहे हैं। बायोडीजल के नाम पर अवैध पेट्रोलियम पदार्थ की भी बिक्री हो रही है। सचिव जैन ने बताया कि 10 वर्ष पूर्व प्रदेश की सीमा में बने पेट्रोल पम्पों पर सस्ता डीजल इस प्रकार के बोर्ड पेट्रोल पंप मालिकों द्वारा लगाए जाते थे। आज स्थितियां इसके उलट हो गई है।

Pankaj Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned