थम गए प्रदेश से बाहर जाने वाली रोडवेज के पहिए

प्रदेश की सीमाएं सील होने से नहीं जा रही बसें, यात्री संख्या में भी कमी से नहीं निकल रही बसें

By: Pankaj

Published: 06 May 2021, 01:26 PM IST

उदयपुर. कोरोना की दूसरी लहर में लगातार बढ़ते संक्रमण को लेकर जहां यात्री भार नाकाफी रह गया है, वहीं प्रदेश की सीमाएं सील होने से बसों की आवाजाही प्रभावित हो गई है। उदयपुर से चल कर अन्य राज्यों में जाने वाली बसें भी बंद कर दी गई है। लिहाजा उदयपुर से बाहरी राज्यों में जाने के लिए बस उपलब्ध नहीं है।
कोरोना संक्रमण के विस्तार को रोकने के लिए सरकारी गाइडलाइन की पालना में सख्ती बरती जाने लगी। ऐसे में यात्रियों की संख्या में दिन ब दिन गिरावट आने लगी। अब स्थिति यह है कि 20 फीसदी यात्री भार भी बसों में नहीं आ रहा है। ऐसे में लम्बी दूरी पर जाने वाली बसों का संचालन बंद हो चुका है। यात्रियों की कमी के साथ ही सीमा पर आरटीपीसीआर टेस्ट रिपोर्ट मांगी जाने के कारण बसें नहीं निकल पा रही है।
आंकड़ों में एक नजर
16 : बसें प्रदेश से बाहर जाती थी
05 : राज्यों से बना हुआ था जुड़ाव
50 : फीसदी स्थानीय बसों का संचालन
25 : फीसदी ही है यात्रियों की संख्या
यह है प्रदेश से बाहर की बसें
मध्यप्रदेश में इंदौर, भोपाल, रतलाम और बुरहानपुर।
गुजरात में अहमदाबाद, सूरत, पावागढ़।
महाराष्ट्र में शिरडी।
उत्तरप्रदेश में वृंदावन।
उत्तराखंड में हरिद्वार।
मोक्ष कलश के लिए निशुल्क हरिद्वार यात्रा
राज्य सरकार की मोक्ष कलश योजना-2020 के तहत राजस्थान राज्य पथ परिवहन निगम की नियमित एक्सप्रेस बस में हरिद्वार जाने-आने के लिए मोक्ष कलश के साथ दो यात्रियों को नि:शुल्क यात्रा की अनुमति फिर से दी गई है। निगम की वेबसाइट पर ऑनलाइन पंजीयन किया जा सकता है। नि:शुल्क यात्रा पंजीयन के समय मृतक विवरण, मृत्यु दिनांक, यात्री सदस्यों के नाम, आधार, जनाधार की जानकारी देनी है।
उच्च वर्ग अधिकृत नहीं
देवस्थान विभाग की गाइडलाइन के अनुसार अब सरकारी कर्मचारी, निगम बोर्ड, राजकीय उपक्रम और आयकरदाता निशुल्क यात्रा के लिए अधिकृत नहीं होंगे। जानकारी गलत पाई जाने पर किराए के साथ जुर्माने वसूला जाएगा।
निशुल्क यात्रा उपलब्ध है
मोक्ष कलश योजना के तहत एक अस्थि कलश के साथ हरिद्वार के लिए परिवार के दो सदस्यों को रोडवेज की नियमित एक्सप्रेस बस में नि:शुल्क यात्रा उपलब्ध है। सभी जिला मुख्यालय से हरिद्वार के लिए एक्सप्रेस बस संचालित है।
राजेश्वरसिंह, अध्यक्ष एवं एमडी, आरएसआरटीसी

उदयपुर की मांग पर सुविधा
राज्यों की सीमा पर आरटीपीसीआर टेस्ट रिपोर्ट मांगी जाने के कारण यात्री नहीं जा रहे हैं। यात्री भार कम होने से बसों का संचालन नहीं हो पा रहा है। उदयपुर की मांग पर हरिद्वार के लिए फिर से मोक्ष कलश निशुल्क यात्रा उपलब्ध है।
महेश उपाध्याय, मुख्य प्रबंधक, उदयपुर आगार

Show More
Pankaj Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned