उदयपुर के दक्ष ने लॉन्च की चौथी एण्ड्रॉइड एप्लीकेशन, गूगल एप से 180 देशों में हुई शुरुआत, देखें वीडियो 

उदयपुर के दक्ष ने लॉन्च की चौथी एण्ड्रॉइड एप्लीकेशन, गूगल एप से 180 देशों में हुई शुरुआत, देखें वीडियो 

madhulika singh | Publish: Aug, 31 2017 01:28:03 PM (IST) Udaipur, Rajasthan, India

नौवीं के 14 वर्षीय छात्र दक्ष अग्रवाल ने चौथी एण्ड्रॉइड एप्लीकेशन 180 देशों मेें लॉन्च की है।

उदयपुर . नौवीं के 14 वर्षीय छात्र दक्ष अग्रवाल ने चौथी एण्ड्रॉइड एप्लीकेशन 180 देशों मेें लॉन्च की है। गूगल ने एप्प को परखा और अपने एप्प स्टोर पर लॉन्च किया। यह एप समूह में हुए खर्चों का ऑनलाइन हिसाब रखेगी। दक्ष शहर के सेंट पॉल्स स्कूल का विद्यार्थी है। ये एप्प गूगल प्ले स्टोर से बिना किसी फीस के सभी देशों में डाउनलोड की जी सकती है। इसके माध्यम से गु्रप के सभी मेम्बर एक साथ अपने खर्चे व्यवस्थित रख सकेंगे।

खास बात ये भी कि एप्लीकेशन समान रूप से सभी देशों में काम करेगी। इसे किसी भी देश की मुद्रा के लिए काम में लिया जा सकता है। दक्ष पढ़ाई के साथ ही रोजाना 4-5 घंटे एप्प डवलपमेंट के लिए निकालता है। दक्ष 3 सालों में चौथी एप्लीकेशन बना चुका है। दक्ष की प्रोग्रामिंग भाषाओं पर अच्छी पकड़ है। दक्ष ने दुनिया के टेक्नोलॉजी एक्सपटर््स से ब्लॉग्स के माध्यम से राय लेकर प्रोजेक्ट को पूरा किया। एप्प गूगल प्ले स्टोर पर ‘माय शेयर प्लस’ के नाम से उपलब्ध है।

 


यह भी है खास
दक्ष की बनाई एप की खासियत यह भी है कि इसमेंं आप एक साथ अलग-अलग कई ग्रुप मेन्टेन कर सकते हैं।

 

READ MORE: ये क्या!! उदयपुर में विद्युत समिति के कामकाज से इसके ही सदस्य खुश नहीं, नाराजगी पर मेयर ने कही ये बात

 

 

ये भी पढ़ें-  दुकानों से चुराए कुछ मोबाइल उदयपुर में ही बेचे 
उदयपुर. चेतक मार्ग स्थित मोबाइल शॉप व पूर्व में चोरी की तीन दुकानों से चोरी हुए अधिकांश मोबाइल उदयपुर में ही बिके। पुलिस की टीम ने आईएमइआई नम्बर के आधार पर कुछ खरीददार को लाकर पूछताछ की। पुलिस की टीम इन आरोपितों के मार्फत अब मुख्य आरोपितों तक पहुंचने के प्रयास में जुटी है। गौरतलब है कि चोर मंगलवार रात को चेतक सर्कल स्थित रौनक मोबाइल शॉप के अलावा तीन माह में उदियापोल व बीएन कॉलेज के सामने स्थित दुकान से मोबाइल चुराए थे।

पुलिस को एक जगह आरोपित सीसीटीवी कैमरे में कैद भी मिले लेकिन उनका पता नहीं चला। पुलिस ने चोरी हुए कुछ मोबाइल को ट्रेस किया तो यहां के स्थानीय युवकों के पास मिले, पूछताछ में उन्होंने किसी से कम दर में खरीदना स्वीकार किया लेकिन आरोपित का नाम नहीं
बता पाए।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned