उदयपुर. कोविड-19 की महामारी में लागू लॉकडाउन और उसके बाद से कई पाबंदियों से पर्यटकों और शहरवासियों से शहर का सज्जनगढ़ बायोलोजिकल पार्क में भीड़ भाड़ कम ही रही। तब से पार्क में वन्यजीवों ने सुकून का अहसास किया। जो जानवर इंसानों को देखकर अपने ही डिस्पले एरिया में इधर-उधर भागते वे भी आराम से घूमते दिखे। वैसे इन दिनों वीकेंड में शनिवार व रविवार को जरूर वहां थोड़ी भीड़ रहती है। बायो पार्क में वन्यजीवों के साथ रहने वाले स्टाफ का मानना है कि लॉकडाउन में सन्नाटा होने जो नियमित रूटीन था उस पर प्रभाव पड़ा और यही प्रभाव वन्यजीवों पर दिखने को मिला। वैसे लॉकडाउन खुलने के बाद गिनती के पर्यटक आना शुरू हुए और धीरे-धीरे पर्यटकों की संख्या बढ़ रही है। वैसे चार लॉकडाउन के बाद सज्जगढ़ अभयारण्य व बायो पार्क को 8 जून से पर्यटकों के लिए खोला गया है। तब वहां करीब 15 से 17 पर्यटक प्रतिदिन आए थे। उप वन संरक्षक अजीत ऊंचोई कहते है कि लॉकडाउन का समय और उसके बाद में वन्यजीवोंं पर प्रभाव को लेकर कोई रिव्यू तो नहीं किया। वे कहते है कि लॉकडाउन खुलने के बाद पर्यटकों का आना शुरू हुआ लेकिन बायो पार्क से ज्यादा सज्जनगढ़ अभयारण्य में जाने वाले ज्यादा है। वे कहते है कि दोनों स्थानों पर शनिवार व रविवार के दिन विजिटर्स ज्यादा रहते है।

Corona virus
Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned