पार्षद बनने वालों की धडक़ने तेज, वार्डों के आरक्षण की लॉटरी आज

पार्षद बनने वालों की धडक़ने तेज, वार्डों के आरक्षण की लॉटरी आज
पार्षद बनने वालों की धडक़ने तेज, वार्डों के आरक्षण की लॉटरी आज

Mukesh Hingar | Updated: 18 Sep 2019, 01:25:02 PM (IST) Udaipur, Udaipur, Rajasthan, India

उदयपुर व कानोड़ निकाय में आज लॉटरी से तय होगा वार्डोँ का आरक्षण

मुकेश हिंगड़ / उदयपुर. नगर निगम चुनाव को लेकर सियासत तेज हो गई है। बुधवार को उदयपुर नगर निगम और कानोड़ नगर पालिका के वार्डों के आरक्षण की लॉटरी निकाली जाएगी। इसके बाद वार्डों से टिकट के लिए रस्साकस्सी बढ़ जाएगी। कांग्रेस हो या भाजपा से पार्षद का चुनाव लडऩे वाले अपने वार्ड की जो तलाश कर रहे है उनके लिए तस्वीर लॉटरी से साफ हो जाएगी। इसके बाद राजनीतिक आकाओ से अपने टिकट की दौड़ तेज करने में लग जाएंगे। जिला निर्वाचन विभाग ने वार्डों के आरक्षण को लेकर नगर निगम उदयपुर एवं नगर पालिका कानोड़ के के वार्डों के वर्गवार आरक्षण व महिला आरक्षण की लॉटरी बुधवार अपराह्न 2 बजे कलक्टरी सभागार में होगी। लॉटरी को लेकर निर्वाचन विभाग ने सभी तैयारियां पूरी कर ली है तो राजनीतिक दल भी लॉटरी प्रक्रिया में भाग लेने के लिए अपने प्रतिनिधियों को जिम्मेदारियां दे चुके है। एससी, एसटी, ओबीसी व महिला वार्ड की लॉटरी निकलने के बाद बचे वार्ड सामान्य वर्ग के लिए आरक्षित हो जाएंगे। बता दे कि उदयपुर नगर निगम में 55 से 70 तो कानोड़ पालिका में 15 से बढ़ाकर 20 वार्ड कर दिए गए है। इस बार 70 में से 23 वार्ड महिलाओं के लिए आरक्षित होंगे।

कई वर्तमान पार्षदों की भी दावेदारी
कई वर्तमान पार्षद भी फिर से पार्षद बनने के लिए बेताब है। वे दावेदारी पहले से वरिष्ठ नेताओं के समक्ष कर रहे है लेकिन उनको लॉटरी का इंतजार है ताकि वे अपने वार्ड को चुन सके। लॉटरी के बाद सुरक्षित एवं स्वीकार योग्य वार्ड खोजेंगे और उसके लिए अपनी मेहनत करेंगे। भाजपा वैसे टिकट देने को लेकर कई प्रक्रिया रखेगी तो कांग्रेस अभी तय नहीं कर पाई है। कांग्रेस में भी टिकट की दावेदारी करने वालों की सूची लम्बी है लेकिन कांग्रेस के आयोजनों व धरना-प्रदर्शन में उनकी उपस्थिति नहीं होना भी एक बिन्दु में शामिल किया जाएगा।

महापौर व चेयरमैन का चुनाव सीधे
इस बार महापौर व पालिका चेयरमैन को पार्षद नहीं चुनेंगे। दोनों का सीधा चुनाव है, जनता सीधे चुनेगी। 2009 के चुनाव में भी सीधे चुनाव हुए थे तब भाजपा की रजनी डांगी ने कांग्रेस की नीलिमा सुखाडिय़ा को हराया था, अब फिर से गहलोत सरकार ने सत्ता में आते ही सीधे चुनाव का ऐलान किया है, इससे चुनाव के समय मतदाता दो वोट करेंगे एक वार्ड पार्षद व निकाय के मुखिया के लिए। वैसे महापौर व पालिका अध्यक्ष की कुर्सी को लेकर आरक्षण की लॉटरी निकलने का अभी कार्यक्रम तय नहीं हुआ है।

ऐसे होगा वार्डों का आरक्षण
नगर निगम उदयपुर
कुल वार्ड : 70
एससी : 07
एसटी : 04
ओबीसी : 15
सामान्य : 44

नगर पालिका कानोड़ में
कुल वार्ड : 20
एससी : 03
एसटी : 03
ओबीसी : 04
सामान्य : 10
....
कानोड़ में तीनों दल जुटे
कानोड़. लॉटरी के बाद पालिका के 20 वार्डो का भविष्य तय हो जाएगा। २०१४ नगर पालिका चुनाव की तरह इस बार भी भाजपा, कांग्रेस के साथ जनता सेना का त्रिकोणीय मुकाबला देखने को मिलेगा क्योंकि तीनों ने चुनाव की तैयारियां शुरू कर दी है। गत चुनाव में पार्षदो ने मिलकर पालिकाध्यक्ष का मनोनयन किया था लेकिन इस बार पालिकाध्यक्ष का सीधा चुनाव होने से भी मुकाबला रोचक रहेगा।

लाइव अपडेट देगा पत्रिका
राजस्थान पत्रिका लॉटरी के तहत वार्डोँ के आरक्षण के लाइव पल-पल का अपडेट आपको पत्रिका की वेबसाइट और उदयपुर पत्रिका के फेसबुक पेज पर दिया जाएगा। आप सीधे अपडेट जान सकेंगे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned