नेता प्रतिपक्ष बोले, उदयपुर कलक्टर चाहती थी कि विधायक नहीं पहुंचे बैठक में

नेता प्रतिपक्ष बोले, उदयपुर कलक्टर चाहती थी कि विधायक नहीं पहुंचे बैठक में

Mukesh Hingar | Updated: 13 Jul 2019, 09:49:19 AM (IST) Udaipur, Udaipur, Rajasthan, India

विधानसभा में उदयपुर

COLLECTOR ANANDI

GULAB CHAND KATARIA

मुकेश हिंगड़ / उदयपुर. विधानसभा में शुक्रवार को उदयपुर ग्रामीण विधायक फूलसिंह मीणा ने सदन में कहा कि उदयपुर की जिला कलक्टर ने 21 जून को भूमि दर निर्धारण समिति (डीएलसी) की बैठक बुलाई और उसकी सूचना जनप्रतिनिधियों को एक दिन पहले दी, साथ में एजेंडा भी नहीं दिया। अगले दिन बैठक में विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया Gulab Chand Kataria व कुछ जनप्रतिनिधि पहुंचे तो उनके टेबल पर प्रस्ताव रखे थे, अब बताए बिना तैयार क्या सुझाव दें। कटारिया व अन्य बैठक का बहिष्कार कर निकल गए। मीणा ने कहा कि दर बढ़ाने संबंधी निर्णय कर उदयपुर में 20 से 47 प्रतिशत करने का प्रस्ताव ले लिया गया। उदयपुर जिले में पहले से ही भूमि नहीं बिक रही है और दर बढ़ाने से इसका कितना असर होगा। नेता प्रतिपक्ष कटारिया ने कहा कि कलक्टर udaipur collector ANANDI व प्रशासन पहले से यह चाहते थे कि विधायक न पहुंचे बैठक में तो ज्यादा अच्छा है। जवाब देते हुए स्वायत्त शासन मंत्री शांति कुमार धारीवाल ने कहा कि यह गंभीर विषय है, इस विषय को दिखाया जाएगा।

जो स्नातक नहीं, उन्हें भत्ते का प्रावधान नहीं

राजसमंद विधायक किरण माहेश्वरी ने शुक्रवार को विधानसभा के बजट सत्र के दौरान बेरोजगारों, अकुशल, कुशल युवाओं के रोजगार सम्बंधी सवाल उठाए। विभागीय मंत्री ने जवाब में कहा कि प्रदेश के प्रत्येक संभाग में पात्र शिक्षित बेरेाजगारों को आवेदन करने पर मुख्यमंत्री युवा सम्बल योजना के तहत 1 फरवरी 2019 से बेरोजगारी भत्ता दिया जा रहा है। एक अन्य सवाल के जवाब में विभागीय मंत्री ने कहा कि विभाग में ऐसे बेरोजगार, जो स्नातक नहीं है, उन्हें बेरोजगारी भत्ता देने संबंधी कोई प्रस्ताव वर्तमान में विचाराधीन नहीं है।

माननीयों के ये भी सवाल
1. फूलसिंह मीणा (उदयपुर ग्रामीण) : जावरमाइंस में प्रयुक्त केमिकल के कारण कानपुर गांव में जमीन बंजर होने के सवाल पर सरकार ने कहा कि कृषि विभाग के मौका मुआयना से सामने आया कि वहां जमीन बंजर होने जैसी स्थिति प्रतीत नहीं हुई है। साथ ही वहां चर्म रोग फैलने की भी कोई शिकायत नहीं मिली है। साथ ही उन्होंने उदयपुर ग्रामीण विस क्षेत्र में संचालित गोशालाओं के सवाल पर सरकार ने बताया कि विस क्षेत्र में दो गोशालाएं संचालित है, जिनको संस्थाएं संचालित करती हैं।

2. प्रताप लाल गमेती (गोगुंदा) : गोगुंदा क्षेत्र में वन अधिकारियों व कर्मचारियों के रिक्त पदों को लेकर सवाल किया। सरकार ने जवाब में बताया कि सहायक वन संरक्षक के सीधी भर्ती व रेंजर ग्रेड के रिक्त पदों को भरने की विज्ञप्ति जारी की तथा अधीनस्थ संवर्ग में सीधी भर्ती के लिए चयन बोर्ड को भेज रखा है। सरकार ने बताया कि उदयपुर वन मंडल उत्तर में 221 स्वीकृत पदों में से 84 पद रिक्त है। इसी प्रकार वन्जीव मंडल राजसमंद में स्वीकृत 276 में से 96 पद रिक्त है।

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned