तीन दशक से मुस्लिम परिवार बना रहा है रावण का पुतला

pramod soni | Publish: Sep, 18 2019 08:00:00 AM (IST) | Updated: Sep, 18 2019 11:53:55 AM (IST) Udaipur, Udaipur, Rajasthan, India

दशहरा पर्व की तैयारियां शुरू हो गई हैंं, बिलोचिस्तान पंचायत व सनातन धर्म सेवा समिति की ओर से रावण, मेघनाद, कुंभकरण के पुतले तैयार किए जा रहे हैं।

प्रमोद सोनी / उदयपुर. हिन्दुओं के प्रमुख पर्व दशहरे पर इस बार भी मुस्लिम परिवार के सदस्य( Ravan nirman)रावण परिवार के पुतलों का निर्माण करेंगे। शहर में असत्य पर सत्य की जीत के प्रतीक दशहरा पर्व की तैयारियां शुरू हो गई हैंं। इसको लेकर बिलोचिस्तान पंचायत व सनातन धर्म सेवा समिति की ओर से (Ravan nirman)रावण, मेघनाद, कुंभकरण के पुतले तैयार किए जा रहे हैं।

शक्तिनगर स्थित कम्यूनिटी हॉल में सोमवार से पुतलों का निर्माण शुरू हुआ। इनका निर्माण मथुरा का मुस्लिम परिवार कर रहा है। शाकिर अली बताते हैं कि करीब ३० से ३२ वर्ष से यह परिवार रावण, मेघनाद व कुंभकरण के पुतलों का निर्माण कर रहे हैं। इनका परिवार भगवान कृष्ण की नगरी से आकर करीब एक माह तक यहां रहता है। ये इन पुतलों के साथ ही रावण की सोने की लंका का भी निर्माण करते हैं। इस काम में उनके तीनों पुत्र जाहिद अली, सादिक अली, आशिफ अली के साथ ही शाकिर अली की बेटियां व उसके पुत्र सहित परिवार के करीब १५ सदस्य मदद करते हैं। अली ने बताया कि उन्होंने अब तक ओड़ीसा, महाराष्ट्र, मुम्बई, गुजरात, अहमदाबाद, चंडीगढ़़, आगरा आदि जगह रावण के पुतले बनाए हैं।
खास बात यह है कि उन्होंने रामलीला फिल्म में भी रावण का पुतला बनाया था। सनातन सेवा समिति के सयोजक हेमंत गखरेजा ने बताया कि रावण का पुतला ७०, मेघनाद व कुंभकरण के पुतले ६५-६५ फीट के होंगे। १०० फीट लम्बी सोने की लंका बनेगी।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned