उदयपुर के इंजीन‍ियरिंग स्‍टूडेंट्स ने बनाया एआई टेक्नीक पर बेस्‍ड सेल्फ-पावर्ड इन्टेलिजेंट डस्टबिन

गीतांजलि टेक्निकल स्टडीज डबोक के कंप्यूटर इंजीनियरिंग विभाग के छात्रों ने इन्टेलिजेंट डस्टबिन बनाया

By: madhulika singh

Published: 30 Sep 2020, 05:55 PM IST

उदयपुर. गीतांजलि टेक्निकल स्टडीज डबोक के कंप्यूटर इंजीनियरिंग विभाग के छात्रों ने भारत की स्मार्ट सिटीज को ध्यान में रखते हुए सेल्फ-पावर्ड इन्टेलिजेंट डस्टबिन बनाया है। डस्टबिन की खासियत ये है कि ये सोलर पावर से संचालित होता है। संस्थान के निदेशक डॉ. विकास मिश्र ने बताया कि स्मार्ट सिटी मे स्मार्ट सिस्टम की मांग को देखते हुए इस सिस्टम को इंटरनेट ऑफ थिंग्स और आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस तकनीक पर आधारित बनाया गया है। यह एक ऑटोमेटेड बिन है, जो अपने आप खुलने व बंद होने की क्षमता रखता है। साथ ही यह पूरा भर जाने पर अलर्ट मैसेज भी कंट्रोल रूम को भेजता है। इसके अलावा यह सिस्टम मोबाइल चार्जिंग, पीसीओ कॉलिंग जैसी स्मार्ट सुविधाओं से लैस है। यह स्मार्ट सिस्टम पूर्णतया गिट्स के रिसर्च लैब मे असिस्टेंट प्रोफेसर लतीफ खान के निर्देशन मे छात्र सौरभ श्रीवास्तव, मिलिन्द डी जैन, हर्षिता जैन, विशाल जैन, कृतिक जरोली, गौतम आनंद के द्वारा इसको डिजाइन एवं विकसित किया गया है एवं इस सिस्टम का पेटेंट भी फाइल हो चुका है।

gits.jpg

ये सिस्टम कई प्रतियोगिताओं में जीत चुका मेडल

प्रोफेसर लतीफ खान ने बताया कि यह सिस्टम कई टेक्निकल कॉम्पिटशन जैसे इंडियन इनोवेशन चैलेंज (माय गवर्नमेंट) में क्वार्टर फाइनल में ब्रांज मेडल प्राप्त कर चुका है। पूर्व में यह सिस्टम जेकेएलयू, जयपुर के बिलडेथॉन हेकेथॉन (राष्ट्रीय स्तर) में प्रथम स्थान प्राप्त कर चुका है, जीआरआईटी, हैदराबाद की चेलेंज एसीआई (राष्ट्रीय स्तर) में आठवां स्थान प्राप्त कर चुका है। खाड़ी देश बहरीन मे स्मार्ट सिटी पर होने वाली अंतरराष्ट्रीय कांफ्रें स में इस प्रोजेक्ट से जुड़े छात्रों ने शोध पत्र भी प्रकाशित किया है।

madhulika singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned