कोरोना काल में यहां जान से ज्यादा जेब भरने की मशक्कत

कोरोना काल में यहां जान से ज्यादा जेब भरने की मशक्कत

By: Mohammed illiyas

Published: 15 Nov 2020, 12:44 PM IST

मोहम्मद इलियास/उदयपुर
लॉकडाउन व कोरोना काल में मंदी की मार झेलने वाले ट्रेवल्स संचालक ने त्योहारी सीजन में जहां किराया बढ़ा दिया वहीं चालक नियम विरुद्ध बसों के केबिनों तक सवारियां बिठा रहे हैं तो लम्बी दूरी अकेले दम पर पार करते हुए स्वयं व लोगों की जिंदगी को जोखिम में डाल रहे हैं। इतना ही नहीं बसों में सवारियों के बोझ से ज्यादा माल का लदान हो रहा है। इन्हें जांच करने वाला परिवहन विभाग सिर्फ परमिट, टैक्स व कागजों की जांच कर रहा है। उदयपुर से प्रतिदिन दिल्ली, मुबंई, अहमदाबाद व एमपी में डेली कई बसें जाती हैं तो बाहर राज्यों की कई बसें यहां आती है लेकिन उन्हें कोई रोकने.टोकने वाला नहीं है।
..
पुलिस ने जांचा कुछ बसों को
कुछ दिनों पहले पुलिस ने बसों की आकस्मिक जांच की तो उनकी भी नींद उड़ गई। एक भी नियमों पर खरी नहीं उतरी। 700-800 किलोमीटर की लम्बी दूरी तक एक ही चालक के गाड़ी चलाते मिले, दूसरे चालक के बारे में पूछने पर कोई जवाब नहीं दे पाया। अधिकांश बसों में नियम विरुद्ध केबिनों में सवारियां भरी थी तो डिक्कियो में सवारियों से ज्यादा भार तक माल भरा मिला।
...
ऐसा कोई दिन नहीं बीतता जब दुर्घटना न हो
ऐसा कोई भी दिन नहीं बीतता जब जिले में कोई सडक़ दुर्घटना घटित नहीं होती हो। सडक़ दुर्घटनाओं को रोकने को कम करने के लिए पुलिस ने ब्लेक स्पोट व दुर्घटना जॉन को चिहिृत कर उस पर काम किया। इससे कुछ दुर्घटनाओं में कमी आई लेकिन मौत का आंकड़ा और बढ़ गया। यह आंकड़ा नियम विरुद्ध वाहन चलाने, नशे व तेज स्पीड में वाहन चलाने के कारण होना सामने आया। अधिकांश लोगों को साइड तक का ज्ञान नहीं। दूसरी ओर जिले में खराब यातायात व्यवस्था भी दुर्घटना का बड़ा कारण बनकर सामने आ रही है।
--
करते हैं कार्रवाई
यात्री बसों में सोशल डिस्टेसिंग की पालना करना अनिवार्य है। कोरोना काल में ट्रेेवल्स बसे अधिक सवारियां लेकर जा रही है तो उनके विरुद्ध कार्रवाई करेंगे।
डॉ.कल्पना शर्मा, जिला परिवहन अधिकारी

Mohammed illiyas Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned