उदयपुर में उत्कृष्ट विद्यालयों के हैं बुरे हाल, सिर्फ कहने को हैं उत्कृष्ट

जिले के 540 में से 197 में नहीं विद्युत कनेक्शन... 

By: madhulika singh

Published: 22 Aug 2017, 07:46 PM IST

 प्रशांत डोडिया/उदयपुर . जिले में 816 राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय संचालित हैं। इनमें से राज्य सरकार ने सत्र 2016-17 में 161 एवं 2017-18 में 379 को उत्कृष्ट विद्यालय घोषित करते हुए इनमें बिजली कनेक्शन के साथ ही अन्य सुविधाएं जुटाना तय किया मगर जिले के 17 ब्लॉक में संचालित 197 उत्कृष्ट विद्यालयों में अब तक विद्युत कनेक्शन नहीं हुआ है। साथ ही 485 विद्यालयों में खेल मैदान एवं 240 विद्यालयों के चारदीवारी नहीं है। स्वच्छता अभियान के शोर के बावजूद 127 विद्यालयों में नो वर्किंग बाथरूम हैं।

 

READ MORE: जानलेवा सेल्फीमेनिया: सेल्फी का शौक कर रहा बीमार, बन गया सामाजिक समस्या 

 


एेसे करनी है बजट व्यवस्था
विद्यालय में इन विकास कार्यों के लिए बजट का बंदोबस्त सर्व शिक्षा अभियान, राज्य सरकार, भामाशाह, महानरेगा, सांसद व विद्यालय कोष समिति सहित अन्य स्तर से किया जाना है।

यह होनी चाहिए भौतिक अवसंरचना
उत्कृष्ट विद्यालय में पर्याप्त कक्षा कक्ष
पुस्तकालय की सुविधा
कक्षा में ग्रीन बोर्ड
पेयजल सुविधा
शौचालय, विद्युत कनेक्शन
फर्नीचर
परिसर की चार दीवारी
रसोई घर
खेल मैदान
कम्प्यूटर लेब
विद्यालय परिसर व कक्षा कक्ष में दीवार पर ज्ञानवर्धक जानकारी का लेखन
फिसल पट्टी

 

READ MORE: छात्रसंघ चुनाव: महंगी पड़ी चुनावी मदद, पुलिस ने पहुंचा दिया हवालात 

 


यह वाकई में उत्कृष्ट
शोभागपुरा ग्राम पंचायत के रेबारी का गुड़ा गांव में संचालित राजकीय उत्कृष्ट उच्च प्राथमिक विद्यालय का परिसर बड़ा होने के साथ ही पेयजल-बिजली सुविधा एवं खेल मैदान है। शहरी क्षेत्र से जुड़ाव होने के बावजूद इसमें 296 विद्यार्थी नामांकित हैं। इस सत्र में 50 नए छात्र निजी विद्यालय छोडक़र आए हैं। पर्याप्त सुविधा होने से इसका कल्प विद्यालय में चयन किया गया है। इसके तहत विद्यालय को 6 कम्प्यूटर मिले हैं जिससे विद्यार्थियों को कम्प्यूटर शिक्षा दी जा रही है।

 

अधिकतर उत्कृष्ट विद्यालयों में विद्युत कनेक्शन हो चुके हैं। सभी संस्था प्रधान को विद्यालयों में विद्युत कनेक्शन के लिए कह रखा है। विद्यालयों में विकास कार्य हो रहे हैं।
रश्मि भार्गव, डीईओ प्रारंभिक शिक्षा उदयपुर

madhulika singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned