scriptvaristh nagrik tirth yatra yojana good news devasthan vibhag | सरकारी तीर्थ यात्रा : अब 70 वर्ष के सामान्य और 60 से अधिक के दिव्यांगजन साथ ले जा सकेंगे सहायक | Patrika News

सरकारी तीर्थ यात्रा : अब 70 वर्ष के सामान्य और 60 से अधिक के दिव्यांगजन साथ ले जा सकेंगे सहायक

varisth nagrik tirth yatra yojana

उदयपुर

Updated: May 27, 2022 09:26:54 am

सितम्बर-अक्टूबर महीने से शुरू होने वाली varisth nagrik tirth yatra yojana वरिष्ठ नागरिक तीर्थ यात्रा योजना में अब 70 वर्ष से अधिक आयु के सामान्य व्यक्ति और 60 वर्ष से अधिक आयु के दिव्यांगजन यात्रा के दौरान अपने साथ एक सहायक ले जा सकेंगे।
varisth nagrik tirth yatra yojana
varisth nagrik tirth yatra yojana
देवस्थान के स्थानीय अधिकारियों ने यात्रा की तैयारियां शुरू कर दी है। सबसे पहले आवेदन प्रक्रिया को लेकर काम किया जा रहा है। जयपुर में देवस्थान मंत्री शकुंतला रावत ने तीर्थ यात्रा योजना सलाहकार समिति की बैठक भी कई सुझावों पर चर्चा की। उन्होंने कहा कि यात्रा के लिए 2011 की जनसंख्या के आधार पर जिलों के लिए अनुपातिक कोटा निर्धारित किया गया है। देवस्थान मंत्री ने कहा कि पति और पत्नी में से किसी एक के आवेदन करने पर दोनों को पात्र माना जाए। साथ ही दिव्यांग बुजुर्गों को भी सहायक के साथ यात्रा को अनुमति मिले। बैठक में सलाहकार समिति के सदस्य रणधीर सिंह, वीरेन्द्र पूनिया, उदयपुर से देवस्थान आयुक्त करण सिंह उपस्थित थे।
यात्रा की खास बातें

  • - यात्रा में जून माह से ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया शुरू की जाएगी।
  • - यात्रा सितंबर माह से यात्रा शुरू करना प्रस्तावित है।
  • - 20 हजार यात्रियों को यात्रा कराएंगे
  • - 18 हजार को ट्रेन व 2000 यात्रियों को हवाई जहाज से यात्रा कराएंगे
  • - जिन व्यक्तियों की आयु 1 अप्रेल, 2022 तक 60 वर्ष पूरी हो गई है या 1 अप्रेल, 1962 से पहले जिनका जन्म हुआ है वे योजना का लाभ उठा सकते हैं।
  • - आवेदक के लिए जनाधार कार्ड जरूरी होगा
जगदीश मंदिर के रखरखाव करते हुए विरासत को संभाला जाए
उदयपुर होटल एसोसिएशन ने पर्यटन विभाग के प्रमुख सचिव को पत्र भेजकर शहर के ऐतिहासिक जगदीश मंदिर पर तत्काल ध्यान देने की आवश्यकता बताई। अध्यक्ष धीरज दोशी, सचिव जतिन श्रीमाली व सह सचिव यशवर्धन सिंह राणावत ने भेजे पत्र में कहा कि जगदीश मंदिर के मरम्मत और रखरखाव की जरूरत है, वहां नियमित रूप से स्थानीय लोगों और पर्यटकों का तांता लगा रहता है ऐसे में इस धार्मिक स्थल जो ऐतिहासिक विरासत भी है को संभालने की जरूरत है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान में 26 से फिर होगी झमाझम बारिश, यहां बरसेगी मेहरबुध ने रोहिणी नक्षत्र में किया प्रवेश, 4 राशि वालों के लिए धन और उन्नति मिलने के बने योगबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयपनीर, चिकन और मटन से भी महंगी बिक रही प्रोटीन से भरपूर ये सब्जी, बढ़ाती है इम्यूनिटीबेहद शार्प माइंड के होते हैं इन राशियों के बच्चे, सीखने की होती है अद्भुत क्षमतानोएडा में पूर्व IPS के घर इनकम टैक्स की छापेमारी, बेसमेंट में मिले 600 लॉकर से इतनी रकम बरामदझगड़ते हुए नहर पर पहुंचा परिवार, पहले पिता और उसके बाद बेटा नहर में कूदा3 हजार करोड़ रुपए से जबलपुर बनेगा महानगर, ये हो रही तैयारी

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: शिंदे खेमे में आ चुके हैं सरकार बनाने भर के विधायक! फिर क्यों बीजेपी नहीं खोल रही अपने पत्ते?Maharashtra Political Crisis: ‘मातोश्री’ में मंथन! सड़क पर शिवसैनिकों के उपद्रव का डर, हाई अलर्ट पर मुंबई समेत राज्य के सभी पुलिस थानेMaharashtra Political Crisis: 24 घंटे के अंदर ही अपने बयान से पलट गए एकनाथ शिंदे, बोले- हमारे संपर्क में नहीं है कोई नेशनल पार्टीBharat NCAP: कार में यात्रियों की सेफ़्टी को लेकर नितिन गडकरी ने कर दिया ये बड़ा काम, जानिए क्या होगा इससे फायदा2-3 जुलाई को हैदराबाद में BJP की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक, पास वालों को ही मिलेगी इंट्री, सुरक्षा के कड़े इंतजामMumbai News Live Updates: शिवसेना ने कल पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक बुलाई, वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से जुड़ेंगे उद्धव ठाकरेनीति आयोग के नए CEO होंगे परमेश्वरन अय्यर, 30 जून को अमिताभ कांत का खत्म हो रहा है कार्यकालCBSE ने बदला सिलेबस: छात्र अब नहीं पढ़ेगे फैज की कविता, इस्लाम और मुगल साम्राज्य सहित कई चैप्टर हटाए
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.