video: पुलिस गिरफ्त में अरिस्दा प्रदेश उपाध्यक्ष, गिरफ्तारी के भय से पूरे दिन छिपते रहे चिकित्सक

video: पुलिस गिरफ्त में अरिस्दा प्रदेश उपाध्यक्ष, गिरफ्तारी के भय से पूरे दिन छिपते रहे चिकित्सक

Sushil Kumar Singh Chauhan | Publish: Dec, 18 2017 02:25:27 PM (IST) Udaipur, Rajasthan, India

चिकित्सक और रेजिडेंट डॉक्टर्स का आज से बेमियादी कार्य बहिष्कार, कार्रवाई को लेकर उदयपुर पुलिस के पास नहीं है कार्ययोजना

 

उदयपुर . अखिल राजस्थान सेवारत चिकित्सक संघ (अरिस्दा) की ओर से सोमवार को बेमियादी कार्य बहिष्कार की चेतावनी के पहले सरकार के निर्देश पर सक्रिय पुलिस ने रविवार देर शाम संगठन के प्रदेश उपाध्यक्ष डॉ. एसएल बामनिया को गिरफ्त में ले लिया। स्पेशल टीम ने मुखबिर की सूचना पर डॉ. बामनिया को कार में अकेले घूमते हुए सीए सर्किल पर डिटेन कर गोवद्र्धन विलास थाने पहुंचाया।

इधर, चिकित्सकों पर दमनात्मक कार्रवाई का आरोप जड़ते हुए उदयपुर रेजिडेंट यूनियन के महासचिव डॉ. दीपाराम पटेल ने कोर कमेटी की बैठक के बाद रविवार शाम सोमवार से बेमियादी हड़ताल पर उतरने की घोषणा करते हुए अरिस्दा के समर्थन की बात कही। राजस्थान मेडिकल टीचर्स एसोसिएशन की ओर से भी हड़ताल पर जाने की भीतरी मंत्रणा बन रही है, लेकिन उनकी ओर से अब तक किसी प्रकार की घोषणा नहीं हुई है। इधर, प्रशासनिक स्तर पर चिकित्सकों के हड़ताल पर उतरने के बाद मरीज हित में व्यवस्था बनाए रखने को लेकर मंथन जारी रहा। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की ओर से तैयारी के तौर पर निजी मेडिकल कॉलेज से शिक्षक मांगें गए हैं। इसी तरह अन्य राजकीय चिकित्सा संस्थानों में आयुष के भरोसे जिम्मेदारी रहेगी।

 

 

READ MORE: video बार एसोसिएशन उदयपुर के चुनाव में भाजपा ने मारी बाजी,समर्थकों ने की ढोल नगाड़े के साथ आतिशबाजी

 

 

बाइक से रोकी कार

सरकारी निर्देश पर सक्रिय पुलिस की स्पेशल टीम प्रभारी इंस्पेक्टर शैतानसिंह की टीम ने सीए सर्किल पर मुखबिरी की सूचना पर कार लेकर गुजरते हुए सेक्टर-14 डिस्पेंसरी प्रभारी डॉ. एसएल बामनिया को बाइक आगे लगाकर रोक लिया। डिटेन कार्रवाई कर विशेष पुलिस ने डॉ. बामनिया को गोवद्र्धन विलास पुलिस थाने को सौंप दिया। मामले में जिला पुलिस अधीक्षक राजेंद्र प्रसाद गोयल ने बताया कि जिले में एक मात्र डॉ. बामनिया की गिरफ्तारी हुई है। दूसरी ओर एएसपी हर्ष रत्नु ने कार्रवाई की जानकारी का आश्वासन देने की बात कही। इसके बाद लगातार संपर्क के बावजूद उन्होंने मोबाइल नहीं उठाया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned